इंदौर

--Advertisement--

MP: दो साल का Bed. कोर्स बंद होगा, 4 साल का BA-BSc बीएड ही चलेगा

2019 के सत्र में बीएड जीरो ईयर घोषित होने की भी संभावना है यानी एडमिशन नहीं होंगे।

Danik Bhaskar

Mar 09, 2018, 04:17 AM IST
अभी प्रदेश में दो साल के बीएड क अभी प्रदेश में दो साल के बीएड क

इंदौर. अगले साल से दो साल का बीएड काेर्स बंद हो जाएगा। सिर्फ बीए बीएड, बीएससी बीएड और बीकॉम बीएड जैसे चार वर्षीय कोर्स ही चलेंगे। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय (एमएचआरडी) ने यह निर्णय लिया है। इसलिए 2019 के सत्र में बीएड जीरो ईयर घोषित होने की भी संभावना है। यानी, एडमिशन नहीं होंगे। बीए, बीएससी बीएड में एडमिशन 12वीं के बाद मिलेगा।

अभी 45 फीसदी तक सीटें खाली रह जाती हैं

नेशनल काउंसिल फॉर टीचर्स एजुकेशन (एनसीटीई) ने तीन साल पहले बीए, बीकॉम और बीएससी बीएड कोर्स लांच कर दिया था। एमएचआरडी की तैयारी है कि 12वीं के बाद ही टीचिंग में आने वाले छात्रों की पढ़ाई शुरू हो जाए। अभी प्रदेश में दो साल के बीएड कोर्स में प्रवेश परीक्षा से प्रवेश होते हैं, लेकिन 45 फीसदी तक सीटें खाली रह जाती हैं।

तीन मेडिकल कॉलेज में 7 पीजी सीट मंजूर

पिछली बार भेजे गए प्रस्ताव के बाद प्रदेश के तीन मेडिकल कॉलेजों में सिर्फ 7 पीजी सीटों को मंजूरी मिली है। इंदौर में आर्थोपेडिक्स विभाग में दो पीजी सीट बढ़ाई गई हैं। वहीं जबलपुर, रीवा में क्रमश: 4 व 3 नई सीटें बढ़ेंगी। इनके लिए भी चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को शुक्रवार तक शपथ पत्र देना होगा।

Click to listen..