--Advertisement--

नायर दंपति मर्डर केस : एयर फोर्स ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर, पूर्व सीएम बाबूलाल पहुंचे सांत्वना देने

नायर दंपति की हत्या उनके नौकर ने की थी। अारोपी ने दंपति से डेढ़ लाख रुपए उधार लिए थे।

Danik Bhaskar | Mar 10, 2018, 01:49 PM IST

भोपाल। रिटायर्ड एयरफोर्स अफसर जीके नायर और उनकी पत्नी गोमती का शनिवार सुबह करीब 11 बजे अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम यात्रा में परिवार के साथ ही एयरफोर्स के भी अधिकारी शामिल हुए। मुखाग्नि के पहले एयरफोर्स की ओर से नायर को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। हीं पूर्व सीएम बाबूलाल गौर परिवार को सांत्वना देने उनके निवास पहुंचे।

नौकर ने की थी दंपति की हत्या

- अवधपुरी स्थित कवर्ड कैंपस नर्मदा वैली कॉलोनी में शुक्रवार सुबह दंपति की लाश लहूलुहान हालत में सीढ़ियों पर मिली थी। सुबह करीब 8 बजे नायर के घर काम करने वाली मोहनबाई घर पहुंची। पोर्च के गेट का ताला अंदर से लगा था। इस पर मोहनबाई ने आवाज लगाई, लेकिन जवाब नहीं मिला। यह सुनकर पड़ाेसी अपने बंगले से नायर की पहली मंजिल की गैलरी में पहुंचे। उन्होंने दरवाजे पर धक्का दिया तो यह खुल गया। अंदर बुजुर्ग दंपती खून से लथपथ पड़े थे। दोनों शव फर्स्ट फ्लोर में बेडरूम के दरवाजे पर आमने-सामने पड़े मिले। पुलिस ने हत्या के आरोपी राजू को गिरफ्तार कर लिया है। राजू उनकी नौकरानी आरती का पति था और वह भी उनके यहां काम करता था।

पूर्व मुख्यमंत्री गौर ने परिवार को दी सांत्वना
- शनिवार सुबह पूर्व मंत्री बाबूलाल गौर नायर दंपति के घर पहुंचे। करीब अाधे घंटे तक वे परिवार के साथ रहे और उन्हें सांत्वना दी। गौर ने कहा नायर दंपति की हत्या बहुत ही दुखद है। अारोपी की पत्नी को उन्होंने पाला पोसा और उसके पति ने उनकी हत्या कर दी।