--Advertisement--

अफ्रीकन लड़की ने किया ऐसा डांस, दिखाए ऐसे एक्सप्रेशंस और मूड्स

अफ्रीकन ट्राइबल डांस सीदी गोमा और बैले आर्टिस्ट्स ने बुधवार को होटल सयाजी में परफॉर्मेंस दी।

Danik Bhaskar | Nov 23, 2017, 02:50 AM IST

इंदौर. अफ्रीकन ट्राइबल डांस सीदी गोमा और बैले आर्टिस्ट्स ने बुधवार को होटल सयाजी में परफॉर्मेंस दी। सीदी गोमा के तीन आर्टिस्ट्स ने अपने डांस मूव्स, एक्सप्रेशंस और प्रॉप्स से जंगल में वाइल्ड एनिमल्स और बर्ड्स के मूड्स दिखाए। डांसर्स जंगली जानवरों की तरह दिखे...

बहुत खूबसूरती से उन्होंने बताया कि मनुष्यों की दखलंदाज़ी से जंगली जानवरों और पक्षियों के बर्ताव में बहुत बदलाव आ गया है। डांसर्स ने फॉर्मेशंस में नाचते हुए मोर, पानी पर खेलती बतख और टहनियों पर झूलते बंदरों की छवि प्रस्तुत की। ग्रुप मेम्बर अल्मास ने बताया कि उनके पूर्वज 300 साल पहले अफ्रीका से भारत आए थे। तब से यह इंडो अफ्रीकन ट्राइब हो गई है और ट्राइबल्स गुजरात की भड़ूच डिस्ट्रिक्ट में रहते हैं । हमें ट्राइबल सूफी कम्यूनिटी भी कहते हैं।

आग के चारों ओर होता ये डांस

डांस के बार में अल्मास ने बताया कि काम से लौटने के बाद और जलसों में आग के चारों ओर सीदी गोमा डांस किया जाता है। इसमें टिन्गुना, मुशिन्डो जैसी ट्रेडिशनल स्टेप्स शामिल होती हैं। फुट वर्क और एक्सप्रेशंस इस डांस की खासियत है। रशिया से आईं डांसर एना ने बैले परफॉर्म किया।अल्मास ने बताया कि हमारी ट्राइब में चेहरे पर गोदना (टैटू) करते थे। डांस के समय पक्षियों के पंखों के इस्तेमाल से चेहरे पर फूल पत्तियों के रंग लगाते थे। अब फेस पेंट और ब्रश इस्तेमाल करते हैं

आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...