इंदौर

--Advertisement--

20 से ज्यादा बुजुर्ग माता-पिता रोते हुए बोले- बेटा और बहू करते हैं मारपीट

अपने बेटे-बहू से परेशान 20 से ज्यादा बुजुर्ग माता-पिता मंगलवार को कलेक्टर और डीआईजी के पास पहुंचे।

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2017, 07:20 AM IST
More than 20 elderly parents crying: Son and daughter-in-law do battle rage
इंदौर . अपने बेटे-बहू से परेशान 20 से ज्यादा बुजुर्ग माता-पिता मंगलवार को कलेक्टर और डीआईजी के पास पहुंचे। अपने जिगर के टुकड़ों से मिल रही पीड़ा को बयां करते हुए अफसरों के सामने ही उनके आंसू निकल पड़े। डीआईजी ऑफिस में इस तरह के 17 मामले आए, जिनमें किसी ने बेटे-बहू द्वारा पीटने, अभद्र व्यवहार करने की शिकायत की। वहीं कलेक्टोरेट में ऐसे तीन से ज्यादा मामले आए। अधिकारियों ने कार्रवाई करने की बात कही है। साथ ही सरकारी योजनाओं में मदद दिलाने का आश्वासन भी दिया है।
- डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र से एक बुजुर्ग ने शिकायत में कहा कि बहू उनके साथ मारपीट करती है। एक बुजुर्ग महिला ने कहा कि बेटा-बहू पीटते हैं। बहू से कुछ कहो तो दहेज प्रताड़ना के झूठे केस में फंसाने की धमकी देती है। डीआईजी ने बताया कि 17 ऐसे मामले आए हैं, जिसमें बेटा-बहू द्वारा बुजुर्गों के साथ मारपीट की गई है। कुछ को संबंधित थाने तो कुछ को महिला थाने भेजा है और दोनों पक्षों को बुलवाकर काउंसलिंग के निर्देश दिए हैं।
मेरे पांच बेटे हैं, इसके बाद भी भीख मांगकर कराना पड़ रहा है इलाज
- कलेक्टोरेट में सर्वानंद नगर की 85 वर्षीय सरस्वती पोते के साथ पहुंचीं। कलेक्टर निशांत वरवड़े से रोते हुए कहा कि पांचों बेटे को हिस्सा दे दिया था। पति की मौत के बाद छोटे बेटे ने ध्यान रखने का बोलकर अपने पास रखा और उनके हिस्से का पैसा भी ले लिया। अब इलाज तक के लिए पैसे नहीं देता। भीख मांगकर इलाज कराना पड़ रहा है।
- तीन बेटियां अपनी मां भागवंती बाई को लेकर कलेक्टोरेट पहुंचीं। उन्होंने कहा कि बेटा और बहू मारपीट करते हैं। इसके चलते वह अभी अपनी बेटियों के साथ रहती हैं।
- राऊ निवासी बुजुर्ग अन्ना अल्फ्रेड ने अधिकारियों को बताया कि बेटा स्टीफन और बहू सपना उनके साथ मारपीट करते हैं। जनसुनवाई में छात्राएं भी पहुंची और उन्होंने किताबें नहीं मिलने की बात कही।
कार्रवाई नहीं की तो डीआईजी ने टीआई से मांगा स्पष्टीकरण
- डीआईजी के पास सुदामा नगर निवासी शांतिबाई परियानी फ्रैक्चर हाथ के साथ पहुंचीं। उन्होंने बताया कि एमजी रोड पर उनकी दुकान है। यहां पर उनके साथ प्रकाश अडयानी, भगवानदास, अमू, जय अडियानी द्वारा मारपीट की गई। लेकिन पुलिस ने सिर्फ अदमचेक की कार्रवाई की। इस पर डीआईजी ने एमजी रोड टीआई अनिल यादव से स्पष्टीकरण मांगा और मामले में कार्रवाई के निर्देश दिए। इस पर पुलिस ने मारपीट की धाराओं में कायमी की है।
कस्टम अफसर बन मांगते हैं पैसे
- पूजा हार्डिया नामक महिला ने जीवनसाथी डॉट काम पर प्रोफाइल बनाया। इसके बाद इंग्लैंड से जानसन नामक व्यक्ति ने बात की। उसने बोला कि गिफ्ट भेजा है। वह दिल्ली एयरपोर्ट से रिसीव कर लें। इसके बाद कुछ लोग लगातार कस्टम वाला बनकर रुपए मांग रहे थे। उनके द्वारा अलग-अलग कर 25 हजार से ज्यादा रुपए जमा कर दिए। अब वे फिर 64 हजार रुपए की मांग कर रहे हैं।
- कमल किशोर यादव ने शिकायत में कहा कि बेटे की नौकरी के नाम पर हर्षित शर्मा नामक व्यक्ति ने अलग-अलग कर करीब 95 हजार रुपए ले लिए। इसके बाद न तो बेटे की नौकरी लगवाई और न ही रुपए वापस कर रहा है।
More than 20 elderly parents crying: Son and daughter-in-law do battle rage
X
More than 20 elderly parents crying: Son and daughter-in-law do battle rage
More than 20 elderly parents crying: Son and daughter-in-law do battle rage
Click to listen..