Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» The Results Of The Four B.Ed. Colleges Are Not Released,

चार बीएड कॉलेजों का रिजल्ट जारी नहीं, 300 छात्रों के परीक्षा में बैठने पर संशय

डिप्टी रजिस्ट्रार प्रज्ज्वल खरे का कहना है रिजल्ट जारी होगा या नहीं, इस पर कुछ नहीं कहा जा सकता।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 15, 2017, 07:19 AM IST

चार बीएड कॉलेजों का रिजल्ट जारी नहीं, 300 छात्रों के परीक्षा में बैठने पर संशय
इंदौर.देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी ने बीएड के पहले और तीसरे सेमेस्टर का रिजल्ट भले ही महीनेभर पहले जारी कर दिया हो, लेकिन चार कॉलेजों का रिजल्ट जारी नहीं किया जा सका है। ऐसे में इन कॉलेजों के करीब तीन सौ छात्रों के सामने इसी माह से शुरू होने वाली दूसरे और चौथे सेमेस्टर की परीक्षा पर संकट की स्थिति है। अब सवाल उठ रहा है कि ये छात्र परीक्षा में शामिल हो पाएंगे या नहीं? कॉलेज कोड-28 के तहत नियम-शर्तें पूरी नहीं करने के कारण इन चार कॉलेजों की मान्यता और संबद्धता अटक गई थी। यूनिवर्सिटी की परीक्षा में तो इन कॉलेजों के विद्यार्थी शामिल हुए थे, लेकिन संबद्धता पर स्थिति स्पष्ट नहीं होने पर यूनिवर्सिटी ने रिजल्ट रोक दिया था।
- हालांकि कॉलेजों ने यूनिवर्सिटी से समय मांगा है। सप्ताहभर में संबद्ध‌ता पर स्थिति स्पष्ट होती है तो इन कॉलेजों के छात्रों से अलग से फॉर्म जमा करवा लिए जाएंगे। ऐसा नहीं होता है तो इन छात्रों को परीक्षा में शामिल होने का मौका नहीं मिलेगा। इनमें इंपीरियर, वैदेही, सेवा सदन व शुभदीप कॉलेज शामिल हैं। डिप्टी रजिस्ट्रार प्रज्ज्वल खरे का कहना है रिजल्ट जारी होगा या नहीं, इस पर कुछ नहीं कहा जा सकता।
पहले सेमेस्टर की परीक्षा जनवरी-फरवरी में
- इधर, 2017 के सत्र का पहला सेमेस्टर भी देरी से होगा। जुलाई में शुरू हुए नए सत्र में एडमिशन की देरी के कारण परीक्षा पर भी असर पड़ेगा। सितंबर में पढ़ाई शुरू हो पाई है।
- ऐसे में परीक्षा नवंबर के बजाय जनवरी-फरवरी में हो पाएगी। वैसे भी पिछले साल एडमिशन लेने वाले छात्रों की पहले सेमेस्टर की जो परीक्षा तब नवंबर-दिसंबर में होना थी, वह इस साल मई में हो पाई थी।
- इसी कारण जून में होने वाली सेकंड-फोर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं अब नवंबर अंत में हो रही हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×