Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Two Auto Driver Fights On The Ride, One Killed During The Dispute

सवारी बैठाने की बात पर दो ऑटो चालक झगड़े, विवाद के दौरान एक की हुई मौत

सवारी बैठाने के दौरान दो ऑटो चालकों का आपस में झगड़ा हो गया। विवाद के दौरान एक की मौत हो गई।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 27, 2017, 03:55 AM IST

  • सवारी बैठाने की बात पर दो ऑटो चालक झगड़े, विवाद के दौरान एक की हुई मौत

    देवास (इंदौर) .सवारी बैठाने के दौरान दो ऑटो चालकों का आपस में झगड़ा हो गया। विवाद के दौरान एक की मौत हो गई। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक परिवार में अकेला कमाने वाला था। उसके दो बच्चे, बूढ़ी मां, पत्नी है, जिनका रो रोकर बुरा हाल है। रविवार को लेबर काॅलोनी के चौराहे पर दोपहर 12.15 बजे के बीच आॅटो चालक अनिल उर्फ बबलू कहार 47 वर्ष का दूसरे आॅटो चालक लखन सोनी (दोनोंं निवासी लेेबर काॅलोनी) का सवारी बैठाने को लेकर विवाद हो गया। सवारी छोड़ने के थोड़ी देर बाद ही चौराहे पर दोनों का आमना-सामना हो गया।

    - आॅटो चालक लखन सोनी, अनिल को गाली देेेनेे लगा, तो अनिल भी गुस्से में आ गया। दोनों के बीच जमकर पहले झूमाझटकी हुई। इसके बाद लखन सोनी ने अनिल उर्फ बबलू को अपने हाथ के पहने कड़े से सिर में कई बार वार किए, जिससे अनिल जमीन पर गिर गया। लोग पास में पहुंचे। अनिल को उठाया। आसपास के लोग घायल अनिल को आॅटो से एमजीएच लेे गए, जहां पर डाॅक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

    रिश्तेदारों से पैसे लेकर खरीदा था ऑटो
    - मृतक अनिल के पिता जनार्दन की करीब 20 वर्ष पहले मौत हो चुकी है। मां मीराबाई 70 वर्ष की हैं, जो बीमार रहती हैं। बेटी जिज्ञासा 15 वर्ष की और बेटा चयन 11 वर्ष का और पत्नी लता है।

    - अनिल के बहनोई सुशील दुवेकर ने बताया कि अनिल पहले प्राइवेट नौकरी करतेे थे पर फैक्ट्री बंद होने से कुछ साल पहले ही रिश्तदारों से पैसा लेकर आॅटो खरीदा था। उससे आजीविका चलाते थेे।
    ‘मत ले जाओ मेेरे पापा को, स्कूल से लेकर कौन आएगा’
    - लोगों की उस समय आंखें नम हो गई, जब शाम को अनिल के घर से अर्थी उठने लगी तो बेटी जिज्ञासा के शब्द सुनकर लोग भी भावुक हो उठे। बेटी रोते हुए बोल रही थी मेरा भाई छोटा है, मेरे पापा को मत ले जाओ, अब हमें स्कूल सेे कौन लेकर आएगा।

    - इस दौरान मौजूद रिश्तेदार व अन्य लोगों की आंखें भी नम हो गई। कई लोगों ने बच्चों को समझाने की कोशिश की पर वो ये मानने को तैयार ही नहीं थे कि उनके पापा अब इस दुनिया में नहीं रहे।

    ऑटो चालक लखन सोनी पर हत्या का मामला दर्ज
    - थाना इंचार्ज आरडी यादव ने बताया आॅटो चालक अनिल उर्फ बबलू व लखन सोनी निवासी लेबर काॅलोनी का आपस में सवारी बैठाने के दौरान विवाद हो गया था, जिसमें अनिल की मौत हो गई।

    - फरियादी महेंद्र की रिपोर्ट पर लखन सोनी के खिलाफ हत्या व एससीएसटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। उसकी गिरफ्तारी भी कर ली गई है। जांच के बाद कोर्ट में चालान पेश कर देंगे।

    ऐसे हुआ था विवाद
    - भास्कर ने घटना के बारे में जानकारी लेने के लिए मृतक अनिल के बहनोई सुशील को फाेन लगाया। उन्होंने मोबाइल पर रवि बाल्दे से बात कराई, जोकि घटना स्थल के पास ही मौजूद थे। उन्होंने बताया अनिल चौराहे पर ऑटो लेकर खड़े थे। पीछे से लखन ऑटो से आ रहा था। इस दौरान बीच में एक दो सवारी दिखी, लखन ने उन्हें अपने ऑटो में बैठा लिया।

    - मृतक अनिल यह दृश्य ऑटो के सााइड गिलास में देख रहे थे। उन्हें यह बात ठीक नहीं लगी, क्योंकि सवारी ले जाने का नंबर उनका था। जब लखन पास में आया तो उन्होंने उसे टोका और कहा कि सुबह से मुझे एक रुपए की सवारी नहीं मिली, ऐसा तुम क्यों कर रहे हो, पहले भी कर चुके हो। उस दौरान भी थोड़ी बहस हुई। लखन सवारी लेकर चला गया, बाद में आया तो अनिल से विवाद किया, गाली गलौज की। इसी दौरान विवाद बढ़ गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×