--Advertisement--

3 लोगाें से मिल जाते 16 हजार करोड़ पूरे देश को परेशान क्यों किया : प्रशांत

नोटबंदी के निर्णय से जनता के साथ ही सरकार को भी बहुत नुकसान हुआ है। मैंने पहले ही तीन नाम अनिल अंबानी, मुकेश अंबानी और ग

Danik Bhaskar | Nov 26, 2017, 07:40 AM IST

इंदौर.नोटबंदी के निर्णय से जनता के साथ ही सरकार को भी बहुत नुकसान हुआ है। मैंने पहले ही तीन नाम अनिल अंबानी, मुकेश अंबानी और गौतम अडाणी को सार्वजनिक किया था। इनके पास से ही 16 हजार करोड़ रुपए मिल जाते। इसके लिए जनता को परेशान करने की जरूरत क्या थी। नोटबंदी की पीड़ा से कई लोग लाइन में लगने के दौरान मर गए। कई लोग बेरोजगार हो गए। सरकार को कई लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।


- यह बात सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने शनिवार को फेडरेशन ऑफ बैंक ऑफ इंडिया स्टाफ यूनियन द्वारा लाभ मंडपम में आयोजित 25वीं जनरल बॉडी मीटिंग में कही। वे यहां मुख्य वक्ता के तौर पर मौजूद थे।

- उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए, लेकिन वे भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने वाले तंत्र को ही समाप्त करते जा रहे हैं।
- कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता प्रहलाद पांडेय, फेडरेशन के जनरल सेक्रेटरी दिनेश झा लल्लन, अध्यक्ष एनएम चव्हाण, कार्यकारी अध्यक्ष कामरेड मिक्सी परेरा, जनरल सेक्रेटरी वीएस वर्मा मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन प्रतीक पाटीदार ने किया।