Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Two Miscreants Robbed The Hotel Operator

लूट के बाद भाग रहे बाइक सवार बदमाशों को पीछा कर पकड़ा, आरोपियों में एक प्रॉपर्टी डीलर और दूसरा नगर निगम अधिकारी का बेटा

लूट के बाद भाग रहे बाइक सवार बदमाशों को पीछा कर पकड़ा, आरोपियों में एक प्रॉपर्टी डीलर और दूसरा नगर निगम अधिकारी का बेटा

Sushma Barange | Last Modified - Nov 17, 2017, 07:25 PM IST

भोपाल। हलालपुर बस स्टैंड के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने होटल संचालक बाबू अधिकारी को चाकू अड़ाकर लूट लिया, लेकिन 25 वर्षीय बाबू ने हिम्मत नहीं हारी और उनसे भिड़ गया। युवक की हिम्मत से पकड़े गए आरोपियों में से एक बिल्डर और दूसरा नगर निगम अधिकारी का बेटा निकला।

दो दिन तक की रैकी
बदमाश दो दिन से बाबू की रैकी कर रहे थे। उन्होंने पहले उसके आने-जाने के रास्ते का पता लगाया और उसके बाद लूट की वारदात को अंजाम दिया। एएसपी जोन-3 राजेश सिंह भदौरिया के अनुसार खानूगांव निवासी 19 वर्षीय एजाज के पिता इम्तियाज हसन नगर निगम में सुपरवाइजर है, जबकि 19 वर्षीय जैद जमीर उर्फ अब्दुल रहमान के पिता फारुख जमीर बिल्डर है। उन्होंने खानूगांव में कॉम्प्लेक्स बनाया है और दो नए प्रोजेक्ट भी चल रहे हैं। एजाज प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है, जबकि जैद बीकॉम फर्स्ट इयर का छात्र है। पुलिस आरोपियों से अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ कर रही है। एजाज के खिलाफ कोहेफिजा थाने में पहले से ही मारपीट के दो मामले दर्ज हैं।

नंबर छिपाने नंबर प्लेट पर चिपकाया टेप
पहचान छिपाने के लिए आरोपियों ने बाइक की नंबर प्लेट पर टेप चिपका दिया था। टेप निकालने पर नीचे नंबर जहांगीराबाद निवासी हसन का निकला। पूछताछ में एजाज ने बताया कि उसने 2014 में हसन से यह गाड़ी खरीदी थी। एजाज ने सेल लेटर पर यह गाड़ी ली थी। हालांकि उन्होंने आरटीओ में इसका रजिस्ट्रेशन नहीं कराया। एएसपी भदौरिया के अनुसार पुलिस इस तथ्य की भी जांच कर रही है। अगर इसमें कहीं गाड़ी मालिक की लापरवाही पाई गई, तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

इसलिए की लूट
एजाज ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि बीते 3 महीने से उसकी प्रॉपर्टी सेल नहीं हाे रही है। इस कारण से रोजाना खर्च चलाने में दिक्कत हो रही थी। उसने जमील को भी इस बारे में बताया था। जमील का कहना है कि वह तो दोस्त की मदद के लिए उसके साथ हो गया था।

माता-पिता ने पुलिस से जताया खेद
आरोपियों के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने दोनों के परिजनों को थाने बुलाया। उन्होंने खेद जताते हुए बताया कि उन्हें तो समझ भी नहीं आ रहा कि उनके बेटे इस तरह की हरकत भी कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें ध्यान रखना चाहिए था कि उनके बेटे रात को कहां जाते हैं? कहां घूमते हैं?

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×