Hindi News »Madhya Pradesh »Niwali» पात्र परिवारों को मिलेगा 5 लाख रु. तक का इलाज

पात्र परिवारों को मिलेगा 5 लाख रु. तक का इलाज

स्थानीय जनपद पंचायत में एसडीएम बीएस कनेश ने आयुष्मान भारत योजना के क्रियान्वयन के लिए पंचायत सचिव, रोजगार सहायक,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 04:20 AM IST

स्थानीय जनपद पंचायत में एसडीएम बीएस कनेश ने आयुष्मान भारत योजना के क्रियान्वयन के लिए पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, एएनएम, आशा कार्यकर्ता व पटवारियों की बैठक ली। एसडीएम ने बताया राज्य में जल्द ही प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन योजना शुरू हो रही है। इसमें प्रत्येक परिवार जिसका नाम सूची में है। उसे प्रतिवर्ष प्रति परिवार 5 लाख रुपए तक अस्पताल में भर्ती होने का कवर मिलेगा। योजना की शुरुआत होने के बाद परिवार के सदस्य देशभर के सभी पेनलबद्ध सार्वजनिक व निजी अस्पताल में बिना नकदी के देखभाल प्राप्त कर सकेंगे।

इस योजना सूची में आर्थिक सामाजिक जातिगत सर्वेक्षण (एसईसीसी) की निर्धारित श्रेणियों में सम्मिलित परिवारों को पात्रता है। यदि परिवार ने नए सदस्य आते हैं तो उन्हें भी कवर किया जाएगा। प्रत्येक परिवार के मुखिया का राशन कार्ड नंबर व मोबाइल नंबर लिखा जाएगा। यदि परिवार का मुखिया न हों तो परिवार के किसी एक अन्य सदस्य का राशन कार्ड नंबर व मोबाइल नंबर लिखा जाएगा। यदि परिवार अभी सूचना देने में असक्षम है तो एएनएम, आशा कार्यकर्ता इसे अगले हफ्ते एकत्र कर लेगी। आप ये सूचना किसी पेनलबद्ध अस्पताल या अन्य प्राधिकृत स्थलों पर भी दे सकते हैं। इसकी जानकारी योजना की शुरूआत होने के बाद दी जाएगी। बैठक में जिला स्वास्थ्य अधिकारी वीबी जैन, तहसीलदार जेपी सौर, सीईओ सुनंदा कामले, डॉ. संजय भावर, डॉ. पीएस जमरे, बीईओ पीसी शर्मा सहित सचिव, आशा कार्यकर्ता व पटवारी मौजूद थे। एसडीएम कनेश ने बताया गरीब तबके के लोगों को इलाज की सुविधा देने के उद्देश्य से सरकार के माध्यम से इस योजना की शुरुआत की जा रही है। लोगों को लाभ मिल सके। इसके लिए सभी कर्मचारियों को अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी।

योजना के क्रियान्वयन के लिए एसडीएम ने ली बैठक, पंचायत सचिव, आशा, एएनएम व पटवारी हुए शामिल

बैठक में चर्चा योजना की जानकारी देते एसडीएम बीएस कनेश।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Niwali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×