--Advertisement--

लोकायुक्त टीम ने सड़क खोदकर देखी, नहीं मिला जेसीबी कार्य

लोकायुक्त टीम ने सड़क खोदकर देखी, नहीं मिला जेसीबी कार्य बड़वानी | मनरेगा में भ्रष्टाचार को लेकर जिला प्रदेश...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 04:50 AM IST
लोकायुक्त टीम ने सड़क खोदकर देखी, नहीं मिला जेसीबी कार्य

बड़वानी |
मनरेगा में भ्रष्टाचार को लेकर जिला प्रदेश में अव्वल स्थान पर रहा है। मामले की जांच अब भी जारी है। वहीं एक और रोड निर्माण में भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। इसकी शिकायत लोकायुक्त भोपाल को की गई थी। दो दिन पहले लोकायुक्त दल ने जांच कर जगह-जगह से सड़क खोदकर देखी लेकिन जीएसबी कार्य नहीं मिला है।

पानसेमल के कालाअंबा से मोहल्यापानी तक 90 लाख रुपए की लागत से 6 किमी रोड का निर्माण 6 साल पहले शुरू हुआ था, जो अब भी अधूरा है लेकिन आरईएस विभाग के अफसरों ने पूर्णता प्रमाण पत्र जारी कर 20 लाख रुपए का भुगतान निर्माण एजेंसी को कर दिया है। भाजपा के माझी प्रकोष्ठ के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य दिलीप साटोटे ने बताया मुख्यमंत्री सड़क योजना के तहत रोड का निर्माण होना था। उन्होंने विभाग के चार अधिकारियों पर मिलीभगत कर भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए हैं। साटोटे ने बताया अफसरों ने मनरेगा के तहत मजदूरों से काम कराने की बजाय जेसीबी, व ट्रैक्टर का उपयोग कर 4 किमी रोड बनाया था। 4 अफसरों की टीम ने 27 फरवरी को जगह-जगह सड़क खोदकर देखी लेकिन कहीं भी जीएसबी कार्य नहीं मिला। जबकि विभाग के अफसरों ने कागजों पर जीएसबी सड़क का निर्माण पूरा बताकर लाखों रुपए का भुगतान कर दिया है। जांच दल ने भी माना कि निर्माण कार्य में गड़बड़ी हुई है।