--Advertisement--

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ एकजुट हुआ समाज, भारत बंद आज

सारनी। आल इंडिया एससी, एसटी कोआर्डिनेशन काउंसिल के सदस्य पाथाखेड़ा चौकी में प्रदर्शन करते हुए। पाथाखेड़ा चौकी...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:15 AM IST
सारनी। आल इंडिया एससी, एसटी कोआर्डिनेशन काउंसिल के सदस्य पाथाखेड़ा चौकी में प्रदर्शन करते हुए।

पाथाखेड़ा चौकी में प्रदर्शन किया आज बगडोना गेट से निकालेंगे रैली

भास्कर संवाददाता| सारनी

अनुसूचित जाति और जनजाति समाज ने सोमवार को भारत बंद सहित पूरे शहर में बंद का आह्वान किया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 को अप्रभावित करने के फैसले के खिलाफ यह प्रदर्शन रखा है। भारतीय संविधान में विभिन्न प्रावधानों के अलावा समाज के लोगों पर जाति के आधार पर अत्याचार रोकने के लिए 30 जनवरी 1990 से सारे भारत में लागू किया। इसमें एससी, एसटी की 116 जातियों को संरक्षण मिला है। मगर, केंद्र सरकारी की उदासीनता के कारण सुप्रीम कोर्ट ने एक पक्षीय कार्रवाई कर अप्रभावित कर फैसला दिया। इस फैसले से समुदाय में आक्रोश है। इस मुद्दे को लेकर सोमवार को भारत बंद का आह्वान समुदाय ने किया है। सोमवार को नगर पालिका गेट बगडोना में समुदाय के लोग सुबह 8.30 बजे इकट्ठा होकर रैली निकालेंगे। बगडोना से शोभापुर, पाथाखेड़ा और यहां से सारनी पहुंचकर नुक्कड़ सभा कर शापिंग सेंटर में बाबा साहब आंबेडकर की प्रतिमा के समक्ष दोपहर 1 बजे एसडीओपी सारनी को ज्ञापन सौंपेंगे। आल इंडिया एससी, एसटी कोआर्डिनेशन काउंसिल ने रविवार को पाथाखेड़ा चौकी में प्रदर्शन कर एक्ट में बदलाव करने का विरोध किया। इस मौके पर दौलत निरापुरे, तुलसीराम चौकीकर, रामराव आठनेरे, संतोष कैथवास, प्रदीप नागले, रामपत कवड़े, रोहित निरापुरे आदि उपस्थित थे।