--Advertisement--

पाथाखेड़ा के बेरोजगार युवाओं ने पकौड़े बेचकर किया प्रदर्शन

पाथाखेड़ा के बेरोजगार युवाओं ने पकौड़े बेचकर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। युवाओं ने कहा सरकार शिक्षित...

Danik Bhaskar | Feb 12, 2018, 04:45 AM IST
पाथाखेड़ा के बेरोजगार युवाओं ने पकौड़े बेचकर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। युवाओं ने कहा सरकार शिक्षित बेरोजगारों को पकौड़ा बेचने को कह रही है। प्रधानमंत्री के ऐसे बयानों के बाद तो डिग्री-डिप्लोमा जला देना चाहिए।

पाथाखेड़ा के बेरोजगार युवा संदीप खादीकर, ओमप्रकाश गुप्ता, प्रदीप नागले, सुरजीत सिंह, ओमप्रकाश चौहान, संदीप खादीकर समेत अन्य युवाओं ने यहां के चौराहे पर पकौड़े की दुकान लगाई। युवाओं ने बताया उन्होंने लाखों रुपए खर्च कर डिप्लोमा और डिग्री प्राप्त की है, लेकिन नौकरियां नहीं होने के कारण वे बेरोजगार हैं। संदीप खादीकर ने बताया उन्होंने तो विदेश में भी नौकरी की। मगर, देशप्रेम के कारण वे भारत आए, लेकिन पाथाखेड़ा आकर भी वे बेरोजगार हैं।

युवाओं ने बताया नौजवान चाय, पकौड़ा बेचकर कैसे घर चलाएंगे। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी हर चुनाव में रोजगार के नए अवसर खुलने का आश्वासन देते आए हैं। पंद्रह सालों में कुछ नहीं हुआ। युवाओं ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा सारनी, पाथाखेड़ा उजड़ने की कगार पर है। यहां नए उद्योग, धंधे लाकर ही विकास संभव है। युवा अशोक सिंह, सागर चौहान ने कहा प्लांट में नई इकाइयां आ जाएं तो रोजगार के अवसर मिल सकते हैं।

सारनी। पाथाखेड़ा में युवा पकौड़े की दुकान लगाकर प्रदर्शन करते हुए।