• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Pathakheda News
  • शहर में नहीं घुसेगा पानी, नालों के सुधार के लिए नपा ने बनाई 38 करोड़ की योजना
--Advertisement--

शहर में नहीं घुसेगा पानी, नालों के सुधार के लिए नपा ने बनाई 38 करोड़ की योजना

शोभापुर कॉलोनी के एसबीआई के पास स्थित इस नाले में भी बारिश के कारण कॉलोनी में पानी घुस जाता है। शोभापुर की रेलवे...

Danik Bhaskar | Feb 12, 2018, 04:45 AM IST
शोभापुर कॉलोनी के एसबीआई के पास स्थित इस नाले में भी बारिश के कारण कॉलोनी में पानी घुस जाता है।

शोभापुर की रेलवे और टट्टा कॉलोनी सबसे ज्यादा प्रभावित

शोभापुर कॉलोनी की टट्टा और रेलवे कॉलोनी बारिश में पानी घुसने की समस्या से सबसे ज्यादा प्रभावित है। इन वार्डों में हर साल पानी घुसता है। टट्टा कॉलोनी और मैग्जिन कॉलोनी में तो चार साल पहले बारिश का पानी घुसने के कारण एक सैकड़ा से ज्यादा लोग बेघर हो गए थे। इसके बाद नगर पालिका ने यहां 2 करोड़ से ज्यादा के प्रोजेक्ट तैयार किए थे, लेकिन इस पर कोई काम नहीं हुआ। नगरीय प्रशासन विभाग से इसे आज तक मंजूरी नहीं मिली। इस कारण पिछले साल भी यहां बारिश का पानी घुस गया था।

पावर जनरेटिंग कंपनी ने किया सुधार, अब नहीं घुसता पानी

सारनी के 13 वार्डों की स्थिति शेष शहर से बेहतर है। यहां मठारदेव की पर्वत शृंखला से उतरने वाला पानी पहले कॉलोनियों में घुस जाता था। चीफ इंजीनियर कार्यालय तक दो बार पानी में डूब चुके हैं। इसके बाद पावर जनरेटिंग कंपनी के सिविल विभाग ने सुधार कार्य किया। सर्वे कर नालों का गहरीकरण किया। अब पानी सीधे सतपुड़ा डेम में उतरता है। इससे फायदा यह है सारनी के किसी भी क्षेत्र में तेज बारिश में भी पानी नहीं घुसता। शोभापुर और पाथाखेड़ा में यह समस्या सबसे ज्यादा है।

प्रारंभिक सर्वे कर दी है रिपोर्ट