• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Pathakheda News
  • गणतंत्र दिवस पर नपा के 122 दैनिक वेतन भोगी कर्मियों को नियमितिकरण की सौगात
--Advertisement--

गणतंत्र दिवस पर नपा के 122 दैनिक वेतन भोगी कर्मियों को नियमितिकरण की सौगात

गणतंत्र दिवस के अवसर पर सारनी नगर पालिका के 122 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमितिकरण की सौगात मिली है। गणतंत्र...

Danik Bhaskar | Jan 26, 2018, 05:20 AM IST
गणतंत्र दिवस के अवसर पर सारनी नगर पालिका के 122 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमितिकरण की सौगात मिली है। गणतंत्र दिवस पर उन्हें नियमितिकरण के आदेश मिल जाएंगे। 25 जनवरी को हुई प्रेसिडेंट इन कांउसिल की बैठक में उक्त निर्णय पारित किया। शासन के अनुमोदन के बाद पीआईसी ने इसे मंजूरी दे दी।

नपा में गुरुवार को प्रेसिडेंट इन काउंसिल की बैठक हुई। अध्यक्ष आशा भारती की अध्यक्षता में हुई बैठक में सीएमओ पवन कुमार राय ने विभिन्न मुद्दों को सभापतियों के बीच रखा। नगर पालिका के 122 दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को स्थाई कर नियमिति करने के आदेश नगरीय प्रशासन विभाग भोपाल से आने के बाद अनुमोदित किया। अध्यक्ष ने कहा सभी कर्मचारियों को उक्त आदेश 26 जनवरी को दिए जाएंगे। नगर पालिका में वर्ष 2007 के पहले कार्य पर लगे कर्मचारियों को नियमित किया है। इसके अलावा बैठक में पार्कों के संधारण, कर्मचारियों के क्रमोन्नति के आदेश और वार्ड 30 में मंगल भवन की कार्यावधि बढ़ाए जाने पर विचार, विमर्श हुआ। शॉपिंग सेंटर के बौद्ध विहार में पेवर ब्लाक लगाने, वार्ड 24 में सार्वजनिक छत निर्माण स्थल में परिवर्तन, पाथाखेड़ा बौद्ध विहार में पेवर ब्लाक लगाने और शोभापुर आंबेडकर प्रतिमा के लिए छत का निर्माण और पेवर ब्लाक लगाने पर विचार-विमर्श हुआ। शहर के प्रमुख चौराहों पर स्पीड ब्रेकर और संकेतक भी लगेंगे।

सारनी। पीआईसी की बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करतीं अध्यक्ष एवं सदस्य।

नगर पालिका एक दिन में देगी ट्रेड लाइसेंस

शहर में दुकान संचालित करने वाले हर व्यक्ति को नगर पालिका से ट्रेड लाइसेंस लेना जरूरी है। गुरुवार को पीआईसी की बैठक में इस मुद्दे पर विचार-विमर्श हुआ। नगर पालिका लोक सेवा गारंटी योजना के तहत एक दिवसीय समाधान योजना में इसे शामिल किया है। नगरीय प्रशासन विभाग की इस सेवा के तहत शहर में दुकान संचालित करने वालों को ये लेना अनिवार्य है। सिंगल दुकानदार वाली दुकान के लिए सालाना लाइसेंस शुल्क 100 रुपए होगा। रिन्युवल पर दर 50 रुपए प्रतिवर्ष होगी। इसी तरह एक या अधिक कर्मचारी वाली दुकानों में इसकी दरें 200 रुपए प्रथम बार और रिन्यूवल पर सालाना 100 रुपए शुल्क लगेगा।

काम नहीं करने वाले ठेकेदारों पर होगी सख्त कार्रवाई

नगर पालिका काम नहीं करने वाले ठेकेदारों पर सख्ती से कार्रवाई करेगी। वार्ड 21, 23, 25, 28 और 29 में कचरा घर का निर्माण करने वाले ठेकेदार ने समय सीमा में काम नहीं किया। इसके चलते ठेकेदार की अमानत राशि जब्त की जाएगी। नगर पालिका पीआईसी के सभी सदस्यों ने सख्त लहजे में कहा समय सीमा में काम नहीं करने वाले ठेकेदारों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।