--Advertisement--

पर्यटन और नदियों के गहरीकरण के लिए सीएसआर से मांगे 7 करोड़

सारनी| सांसद ज्योति धुर्वे ने कोयला मंत्री को दो अलग-अलग पत्र सौंपें। पाथाखेड़ा क्षेत्र में नई खदान शुरू करने के...

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 06:35 AM IST
सारनी| सांसद ज्योति धुर्वे ने कोयला मंत्री को दो अलग-अलग पत्र सौंपें। पाथाखेड़ा क्षेत्र में नई खदान शुरू करने के साथ ही जिले के पर्यटन स्थलों के विकास और यहां से निकलने वाली पवित्र नदियों के गहरीकरण की मांग रखी। शृंखलाबद्ध स्टॉपडेम निर्माण के लिए महाराष्ट्र के सिरपुर की तर्ज पर 7 करोड़ की सीएसआर देने की मांग की। सांसद ने कोयला मंत्री को यह अवगत कराया कि बैतूल जिले का बरसाली नामक स्थान अखंड भारत का केंद्र बिंदु है, जहां राजा टोडरमल द्वारा स्थापित शिलालेख आज भी मौजूद है। पर्यटन एवं ऐतिहासिक महत्व की दृष्टि से यह स्थान काफी महत्वपूर्ण है। ताप्ती, वर्धा और पूर्णा जैसी पौराणिक महत्व की पवित्र नदियों का उद्गम बैतूल से हुआ है। नदियों का गहरीकरण और स्टॉप डेमों का निर्माण सीएसआर से किया जा सकता है। सांसद ने कोयला मंत्री को यह भी बताया रोजगार और पर्यटन विकास की संभावनाएं बढ़ गई हैं।