• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Pathakheda
  • बच्चाें को खेलने के लिए नहीं मैदान, दो साल से हो रही मांग, अब होगा आंदोलन
विज्ञापन

बच्चाें को खेलने के लिए नहीं मैदान, दो साल से हो रही मांग, अब होगा आंदोलन

Dainik Bhaskar

Mar 28, 2018, 07:05 AM IST

Pathakheda News - सारनी। शोभापुर कॉलोनी के कैलाश नगर में खाली मैदान पर कचरा बिखरा हुआ है। समतलीकरण के लिए ही परेशान हो रहे लोग,...

बच्चाें को खेलने के लिए नहीं मैदान, दो साल से हो रही मांग, अब होगा आंदोलन
  • comment
सारनी। शोभापुर कॉलोनी के कैलाश नगर में खाली मैदान पर कचरा बिखरा हुआ है।

समतलीकरण के लिए ही परेशान हो रहे लोग, नपा ने भी मशीन लौटाई

मैदान के समतलीकरण को लेकर शोभापुर के लोगों ने नपा को पत्र लिखा था। इसके बाद नपा ने मशीन भिजवाई, लेकिन काम नहीं हुआ और मशीन लौट गई। मैदान की स्थिति जैसी की तैसी है। पार्षद मनोज वागद्रे ने बताया मशीन लगाने की मांग को लेकर उन्होंने अध्यक्ष आशा भारती से मुलाकात की। मगर, समाधान नहीं निकला। इसलिए अब मैदान सुधार के लिए सब एकजुट हो गए हैं।

सुधार की योजना है, पार्क भी बनेगा


डब्ल्यूसीएल ने हां नहीं किया लेकिन मना भी नहीं, नपा ही नहीं कर रही काम

कैलाश नगर में जिस स्थान पर मैदान बनाने की मांग उठ रही है वह डब्ल्यूसीएल के क्षेत्राधिकार में है। मैदान सुधार करने की मांग करने के लिए क्षेत्र के लोगों ने डब्ल्यूसीएल को पत्र लिखा था। डब्ल्यूसीएल ने सुधार करने में तो हामी नहीं भरी, लेकिन सुधार करने से मना भी नहीं किया। यानी कोई और सुधार करे तो डब्ल्यूसीएल को आपत्ति नहीं है। नपा को पोकलेन मशीन से काम कराना है, लेकिन हो नहीं पा रहा।

तीन किमी दूर बगडोना जाकर करते हैं प्रैक्टिस

शोभापुर में मैदान नहीं होने से यहां के बच्चे तीन किमी दूर बगडोना में हवाई पट्‌टी पर प्रैक्टिस करते हैं। यहां के मुकेश भालेकर, विनोद बरड़े, रामकिशोर बारंगे, अरविंद मोहने समेत अन्य लोगों ने बताया कैलाश नगर में सुविधा होने के बाद भी खिलाड़ियों को परेशानी उठानी पड़ती है। उन्होंने बताया नगर पालिका और डब्ल्यूसीएल से बार-बार कहने पर भी काम नहीं हुआ। मैदान असंतुलित है। इसे सुधार की जरूरत है।

X
बच्चाें को खेलने के लिए नहीं मैदान, दो साल से हो रही मांग, अब होगा आंदोलन
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन