Hindi News »Madhya Pradesh »Pathakheda» शोभायात्रा निकालकर लोगों को दिया एकता का संदेश

शोभायात्रा निकालकर लोगों को दिया एकता का संदेश

संत रविदास जयंती पर ताप्ती तट स्थित संत रविदास मंदिर परिसर से शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा में शामिल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:10 PM IST

संत रविदास जयंती पर ताप्ती तट स्थित संत रविदास मंदिर परिसर से शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा में शामिल समाजबंधुओं ने हम सब एक का संदेश दिया। मंदिर में संत रविदास जयंती समारोह आयोजन समिति अध्यक्ष सुखलाल झारे ने कलश पूजन, गुरु आरती से कार्यक्रम की शुरुआत की। इसके बाद शोभायात्रा निकाली, इसमें बालिकाएं सिर पर कलश लेकर आगे चल रही थीं। उनके पीछे युवा, महिलाएं और समाजबंधु संत रविदास के जयकारे लगाते हुए चल रहे थे। स्टेशन रोड, फव्वारा चौक, गांधी चौक, मासोद रोड होकर शोभायात्रा संत गजानन मंदिर पहुंची। गुरु अमृतवाणी, भजन, अरदास के बाद भंडारा के साथ समापन हुआ।

संत रविदास जयंती

गजानन मंदिर में गुरु अमृतवाणी, भजन और अरदास के बाद भंडारा के साथ हुआ समापन

मुलताई। संत रविदास जयंती पर निकाली शोभायात्रा

बजरंगदल, विहिप ने मोही में मनाई संत रविदास जयंती

ग्राम मोही में बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद मुलताई इकाई ने संत रविदास जयंती मनाते हुए समरसता भोज रखा। राम मंदिर न्यास बोर्ड अयोध्या के कार्यकारी अध्यक्ष संत पीठाधीश्वर डॉ. रामविलास वेदांती, राघवेश दास की उपस्थिति में जयंती मनाई। वेदांती ने शिरोमणि संत रविदास के जीवन के बारे में जानकारी दी। सभी से संत के बताए मार्ग पर चलने की समझाइश दी। ओमकार टिटारे ने भी सभी को एकजुट होकर कार्य करने की समझाइश दी। बजरंग दल के विभाग सहसंयोजक कृष्णकांत गावंडे, जिला सह संयोजक गगन साहू, महेंद्र साहू, संदीप चौधरी, गजेंद्र साहू, आदित्य भुसारी सहित बड़ी संख्या में युवा उपस्थित थे।

आध्यात्मिक रूप से समाज को दिशा दिखाने लिया था संत शिरोमणि ने अवतार: डोंगरे

सारनी| संत शिरोमणि रविदास जयंती पर वार्ड 5 में स्वामी विवेकानंद छात्र विचार मंच ने कार्यक्रम आयोजित किया। इसके अलावा पाथाखेड़ा बस स्टैंड पर भी कार्यक्रम आयोजित हुआ। स्वामी विवेकानंद मंच के सदस्य चंद्रशेखर अहिरवार ने बताया वार्ड 5 में संत शिरोमणि रविदास के छायाचित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर तिलक पूजन से कार्यक्रम की शुरुआत की। मुख्यवक्ता रंजीत डोंगरे ने कहा संत रविदास का जीवन और आध्यात्मिक रूप से समाज को दिशा दिखाने वाला था। इस अवसर पर देवेंद्र डोंगरे, चेतन साबले, यश साबरकर, दशरथ डांगे, आलोक मिश्रा, किशोर बरदे, आशीष डोंगरे, भोजराज परमार, माधव विश्वकर्मा, सुभाष माकोड़े, मनीष राजहंस, सुंदरम नागेश, अर्जुन सिंदूर, हितेन सिंदूर समेत अन्य उपस्थित थे। पाथाखेड़ा के बस स्टैंड पर स्थित संत रविदास की प्रतिमा स्थल पर भी कार्यक्रम हुआ। समिति के निंबाजी इंडले, हंसराज पदमाकर और पप्पू भुस्कुटे ने बताया हर साल रविदास जयंती पर पूजा-अर्चना, भजन-कीर्तन एवं भंडारा किया जाता है। इस अवसर पर नत्थया इंगले, सुरेश वाडेकर, रामराव, भीमराव वाडेकर एवं राजू हनोते के अलावा सैकड़ों सामाजिक बंधु उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pathakheda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×