--Advertisement--

सारनी| पाथाखेड़ा के आंबेडकर नगर में कार की टक्कर से

सारनी| पाथाखेड़ा के आंबेडकर नगर में कार की टक्कर से घायल बालक को 45 दिनों बाद भी होश नहीं आया है। गंभीर स्थिति में वह...

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 05:20 AM IST
सारनी| पाथाखेड़ा के आंबेडकर नगर में कार की टक्कर से घायल बालक को 45 दिनों बाद भी होश नहीं आया है। गंभीर स्थिति में वह अस्पताल में भर्ती है। अब परिजनों के पास उपचार के लिए भी रुपए नहीं बचे हैं। आरोपी डब्ल्यूसीएल कर्मचारी अब परिजनों पर समझौते के लिए दबाव बना रहा है। पाथाखेड़ा निवासी अमर कुमार ने बताया 25 मई को उसका भतीजा मुकेश घर के पास खेल रहा था इसी दौरान एक सफेद ईको वेन ने उसे टक्कर मार दी और नीलगिरी के पेड़ से टकरा गई। घटना में मुकेश गंभीर घायल हो गया जो अभी भी वह कोमा में है। कोई मूवमेंट नहीं है। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वे परेशान हो रहे हैं। पुलिस प्रकरण बनाए जाने के बाद भी अमर कुमार ने कथित आरोप लगाया अब घटना का आरोपी डब्ल्यूसीएल कर्मचारी चंपालाल नागले उन पर समझौता करने का दबाव बना रहा है।