• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Pipariya News
  • वन िवभाग को मिले 50 वनरक्षक, वनों की सुरक्षा में आएगी मजबूती, 25 वनरक्षकों को मिले पुरस्कार
--Advertisement--

वन िवभाग को मिले 50 वनरक्षक, वनों की सुरक्षा में आएगी मजबूती, 25 वनरक्षकों को मिले पुरस्कार

पचमढ़ी के इंदिरा गांधी वनरक्षक प्रशिक्षण शाला में वन रक्षकों के 64वें प्रशिक्षण सत्र का शनिवार को समापन हुआ।...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:30 AM IST
पचमढ़ी के इंदिरा गांधी वनरक्षक प्रशिक्षण शाला में वन रक्षकों के 64वें प्रशिक्षण सत्र का शनिवार को समापन हुआ। प्रशिक्षण में बालाघाट वन मंडल के 32 और रीवा के 18 वन रक्षकों को ट्रेनिंग दी। 5 वनरक्षकों की उम्र 48 साल से अधिक होने के कारण प्रशिक्षण से छूट दी। अक्टूबर 2017 से वनरक्षकों का प्रशिक्षण चल रहा था। शनिवार को प्रशिक्षण शाला में प्रधान मुख्य वन संरक्षक (मानव संसाधन विकास) मप्र के मुख्य आतिथ्य में कार्यक्रम हुआ। बेहतर प्रदर्शन करने वाले 25 वन रक्षकों को अतिथियों ने पुरस्कृत किया। वन रक्षकों को पर्यावरण, वन्य प्राणी संरक्षण, वन उपयोगिता, वन्य जीव सर्वे, वन सुरक्षा एवं वन विधि, लेखा एवं प्रक्रिया आदि विषयों पर प्रशिक्षण दिया। 15 दिनी अध्ययन भ्रमण भी वन रक्षकों को कराया। वन मंडल बैतूल, हरदा, खंडवा, ओंकारेश्वर, बड़वानी, धार, इंदौर आदि का दौरा किया। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक एल कृष्णमूर्ति, मुख्य वन संरक्षक केके भरद्वाज, डीएस चौहान संचालक वन विद्यालय पचमढ़ी, एसटीआर के सहायक संचालक संजीव शर्मा आदि उपस्थित रहे।

पचमढ़ी के इंदिरा गांधी वनरक्षक प्रशिक्षण शाला में वन रक्षकों के 64वें प्रशिक्षण सत्र का समापन

पिपरिया। शपथ लेते वन रक्षक।

जरूरी हो तो ले....

वन अधिकारियों ने वनों की सुरक्षा जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी बेतर ढंग से निभाने के लिए प्रेरित किया। वन रक्षक अलग-अलग स्थानों पर तैनात किए जाएंगे। मैदानी काम में आने वाली चुनौतियों का सामना करते हुए आगे बढ़ने की सीख दी। वनों और वन्य प्राणियों की सुरक्षा जैसे संवेदनशील काम को ईमानदारी से करने के लिए प्रेरित किया।