--Advertisement--

निवेशकों को विश्वास में लेने पहले देते थे ब्याज

रायसेन | पुलिस को न्यायालय से पांच दिन की रिमांड मिलने के बाद नितिन बलेचा से दूसरे दिन भी पांच घंटे पूछताछ की गई। ...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:00 AM IST
रायसेन | पुलिस को न्यायालय से पांच दिन की रिमांड मिलने के बाद नितिन बलेचा से दूसरे दिन भी पांच घंटे पूछताछ की गई।

एएसपी किरण केरकेट्टा, एसडीओपी एसएस पटेल सहित टीआई आलोक श्रीवास्तव ने नितिन बलेचा से पूछताछ की। लेकिन वह उन्हें गोल मोल जवाब ही देता रहा। हालांकि उसने पुलिस को बताया कि हमने लोग अधिक ब्याज के लालच में निवेश किया हुआ पैसा निकालना नहीं चाहते थे। मुख्य सरगना नितिन बलेचा पिछले सात महीने से हिसार जेल में बंद था।

लोगों की जागी उम्मीद : शहर सहित आसपास के क्षेत्रों से सैकड़ों लोगों ने श्रद्धासबूरी कंपनी में करोड़ों रुपए का निवेश अधिक ब्याज के लालच कर दिया था। कंपनी के संचालकों ने लोगों को विश्वास में लेने के लिए पहले तो समय पर ब्याज दिया। लेकिन बाद में बंद कर दिया। इसके बाद लोग हरकत में आए। कुछ दिन इंतजार किया और बाद में पुलिस में शिकायत की। बसंत उपाध्याय के बाद मुख्य आरोपी नितिन बलेचा के पकड़े जाने के बाद लोगों को उम्मीद जगी है कि उनका पैसा अब मिल सकता है