• Hindi News
  • Mp
  • Raisen
  • Deveri News mp news 26 years ago the road to the mogha reservoir made 20 feet wide survived 6 feet there is a possibility of an accident due to a gap on both sides

26 साल पहले 20 फीट चौड़े बने मोघा जलाशय का मार्ग 6 फीट बचा, दोनों तरफ खाई होने से हादसे की आशंका

Raisen News - रोड बनने के बाद से ही नहीं हुई मरम्मत, परिणाम यह है कि बाइक निकालना भी हो रहा दूभर एनएच 12 से लेकर मोघा जलाशय...

Mar 14, 2020, 07:16 AM IST

रोड बनने के बाद से ही नहीं हुई मरम्मत, परिणाम यह है कि बाइक निकालना भी हो रहा दूभर

एनएच 12 से लेकर मोघा जलाशय मार्ग का 5 किमी की सड़क अब खाई में बदल गई है। यहां से निकलना किसी खतरे से कम नहीं है। अनजान आदमी जब भी यहां से निकलता है तो अक्सर दुर्घटना का शिकार हो जाता है जिससे मोघा जलाशय देखने का सपना भी उसका अधूरा रह जाता है इस मार्ग पर रहे लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन अब इन लोगों की खतरा मोल लेकर निकलने की आदत बन गई है। क्योंकि पूर्व में रहवासी जनप्रतिनिधियों से लेकर अफसरों तक मार्ग बनवाने की गुहार लगा चुके हैं लेकिन किसी इस सड़क को बनवाने में अपनी दिलचस्पी दिखाई है।

यही वजह है कि अब भी यहां से आवागमन करने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यहां पर रहने वाले रहवासी अपने मेहमानों को खुद एनएच 12 पर लेने के लिए जाते हैं क्योंकि अनजाने में कोई गड़बड़ न हो जाए, इस बात का सभी को डर सताता रहता है। अफसरों ने इस मार्ग नया बनवाने की बात तो दूर अभी तक एक बार भी मरम्मत नहीं करवाई है जिसके चलते इस रास्तें में जगह जगह खाई बन गई है। इसी मार्ग से बाहर से आने वाले मोघा जलाशय देखने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक जाते हैं जिनके साथ कभी भी हादसा होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। यहीं नहीं अफसरों की अनदेखी के कारण ही मार्ग से लेकर मोघा जलाशय की स्थिति बद से बदतर बनी हुई है। 1996 में मोघा जलाशय परियोजना विभाग ने 20 फीट चौड़ी सड़क का निर्माण करवाया था जो अब सिर्फ 6 फीट का रह गया है। जिसके चलते एक ही वाहन एक बार में यहां से निकल सकता है। यही नहीं वाहन चालक काे सड़क धंसकने का भी डर बना रहता है लेकिन खतरा लेकर वाहनों की आवागमन हो रहा है। हवासियों ने बताया कि यदि मार्ग सुधर जाता है तो यहां रह रहे करीब 1 हजार लोगों का डर खत्म हो जाएगा और आवागमन में भी सुविधा होगी। पूर्व में इस मार्ग पर कई घटनाएं हो चुकी हैं रहवासियों ने बताया कि विभागीय अफसरों को इस मार्ग को जल्द से जल्द सुधार करवाना चाहिए ताकि हादसों को रोका जा सके।

जलाशय में होता है मछली पालन : मोघा जलाशय के पास आदिवासी समुदाय के लोग निवास करते हैं जो जलाशय में मछली पालन का काम करते है। इससे इन परिवारों का भरण पोषण होता है। मछली लाने ले जाने के लिए रोजाना ही सैकड़ों लोगों का यहां से निकलना होता है। लेकिन मार्ग की 20-25 फीट की खाइयों के कारण आवागमन में डर बना रहता है। इस मार्ग पर आलनपुर, इंदिरा आवास और वार्ड नंबर 1 के लगभग 200 परिवारों के 1 हजार लोगों मार्ग को लेकर इतने परेशान है कि अफसरों के यहां सुनवाई नहीं होने पर खतरा लेकर निकलना उनकी आदत बना ली है। आलहनपुर निवासी फूल सिंह आदीवासी, कामता प्रसाद साहू, रफीक खान ने बताया कि अफसर उनकी सुनवाई नहीं कर रहे हैं इसलिए वह भगवान भराेसे ही इस मार्ग से आवागमन कर रहे हैं। हालत यह है कि घर से निकलने के बाद वापस घर पहुंचने से पहले ईश्वर को धन्यवाद देते हैं।

रहवासी बोले-मेहमानों को लेने एनएच जाते हैं क्योंकि डर यह है खाई में न गिर जाएं

पानी निकासी नहीं होने से घरों में भरता है पानी

शिवम विश्वकर्मा, छोटू आदीवासी, प्रकाश अहिरवार ने बताया कि मार्ग पर पानी निकासी नहीं होने के कारण मार्ग से रिसने वाला पानी सीधे उनके घरों में प्रवेश करता है जिसके चलते बारिश के दिनों में परेशानियों का सामना करना पड़ता है और उनकी सालभर की पूंजी बारिश के पानी में खराब हो जाती है। 26 साल पहले बने मार्ग पर न तो पानी निकासी के लिए नालियां भी नहीं बनाई हैं, साथ ही मार्ग की भी मरम्मत नहीं करवाई है। यही बजह है कि सड़क पर गहरी गहरी खाई बन गई हैं। जो भी भी किसी बड़े हादसे का कारण बन सकती है।

अफसर बार-बार भेज रहे प्रस्ताव

मार्ग को बनवाने के लिए मोघा जलाशय के अफसर वरिष्ठ अफसरों को बार बार प्रस्ताव बनाकर भेज रहे हैं। प्रस्ताव की तरफ ध्यानाकर्षण करने के लिए पत्र लिख रहे हैं लेकिन शासन ने इस सड़क को बनाने में अभी तक स्वीकृति नहीं दी है। जिसके चलते कुछ सालों से अफसरों ने भी पत्र लिखना बंद कर दिया है। अफसरों ने बताया कि मार्ग का बनना बेहद जरुरी है लेकिन उनके पास न तो बजट है न ही संसाधन कि मार्ग की मरम्मत की जाए सके। वरिष्ठ अफसरों को कई बार पत्र लिखकर ध्यानाकर्षण करवा चुके हैं, हालत जस के तस बने हुए हैं।

नहीं मिल रही स्वीकृति


इस तरह से मार्ग पर जगह-जगह बन रही खाई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना