पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दुष्कृत्य के आरोपी को आजीवन कारावास

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रायसेन| विशेष न्यायाधीश नीलम मिश्रा ने लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 के तहत आरोपी राजेश पुत्र मान सिंह अहिरवार 22 वर्ष निवासी मुश्काबाद दीवानगंज को दोषी पाते हुए धारा 366 भादंवि में 5 वर्ष का कठोर कारावास व 5 हजार रुपए अर्थदण्ड और धारा 376एबी में आजीवन कारावास व 10 हजार रुपए अर्थदण्ड एवं धारा 506 भाग-2 में 3 वर्ष का कठोर कारावास व 2 हजार रुपए अर्थदण्ड से दण्डित किया है।अभियोजन पक्ष के अनुसार 22 फरवरी 2019 को आरोपी राजेश अहिरवार निवासी मुश्काबाद दीवानगंज ने 7 वर्षीय बालिका जो घर के पास खेल रही थी, को ले जाकर दुष्कृत्य की घटना घटित कर घर के पास छोड़ गया था। पीड़िता ने रोते हुए जब पूरी घटना की जानकारी अपनी मां को बताई तो उसने पति के साथ गांव के लोगों के साथ जाकर सलामतपुर थाने में रिपोर्ट की। इसके बाद पुलिस ने जांच के बाद मामला न्यायालय को सौंपा, जहां सजा सुनाई गई।
खबरें और भी हैं...