एक खरीदी केंद्र होने से किसानों को होना पड़ेगा परेशान, अभी पंजीयन ही नहीं हुए शुरू

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:12 AM IST
Raisen News - mp news farmers will have to face being a purchased center disturbed registration has not started

परिवहनकर्ता की लापरवाही के कारण हजारों किसान हो रहे परेशान

जिले में 146 गेहूं खरीदी केंद्र हैं जिनमें से 77 केंद्र पात्र पाए गए हैं। शेष खरीदी केंद्र अपात्र घोषित किए गए हैं। जो केंद्र अपात्र हैं वह गेहूं खरीदी नहीं कर सकेंगे। खाद्य विभाग के प्रमुख सचिव द्वारा अभी तक पोर्टल पंजीयन की वेबसाइट को नहीं खोला गया है। जबकि गेहूं खरीदी पंजीयन की अंतिम तारीख 23 फरवरी निर्धारित हैं। दीवानगंज सहकारी संस्था के अंतर्गत 2 खरीदी केंद्र सांची संस्था के 3 केंद्रों और पग्नेश्वर संस्था के भी 3केंद्रों के किसानों का पंजीयन होता है। वहीं दूसरी और गेहूं परिवहन की जिम्मेदारी जिस ट्रांसपोर्टर को दी गई थी उसके द्वारा परिवहन में हेराफेरी की गई। उसका ठीकरा इन समितियों प्रबंधकों के सर पर फूटा है। शायद इसी वजह से अनेक खरीदी केंद्र अभी तक पंजीयन से भी वंचित हैं। समिति प्रबंधकों द्वारा पूरे मामले को न्यायालय में भी लगाया गया है। जो अभी विचाराधीन है।

पंजीयन बनी किसानों के लिए मुसीबत

सलामतपुर, दीवानगंज,पग्नेश्वर सहित सांची क्षेत्र की कृषक सहकारी संस्थाओं में पंजीयन नहीं होने की वजह से किसानों को परेशान होना पड़ रहा है। इन चारों संस्थाओं में पिछले वर्ष लगभग सात हजार किसानों ने अपनी उपज बेचने के लिये पंजीयन कराया था। दीवानगंज, पग्नेश्वर एवं सांची में किसान रोज कृषक सेवा सहकारी समितियों के चक्कर काट रहे हैं। पंजीयन पोर्टल प्रारंभ नहीं होने की वजह से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें स्पष्ट दिखाई दे रही है। लेकिन प्रशासनिक ढीली चाल और लापरवाही के चलते किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिला कलेक्टर सहित जिले के प्रभारी मंत्री हर्ष यादव और शिक्षा मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी आदि सभी को है इसके बाद भी फसल विक्रय हेतु पंजीयन प्रारंभ नहीं कराए गए हैं। जो चिंता का विषय है।

15 किमी दूर जाकर बेचना पड़ेगा गेहूं




X
Raisen News - mp news farmers will have to face being a purchased center disturbed registration has not started
COMMENT