विज्ञापन

बच्चों को सशस्त्र संघर्ष में शामिल न करने के लिए रेड हैंड दिवस मनाया

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 04:55 AM IST

Raisen News - गंजबासौदा| प्रसून संस्था द्वारा उदयपुर, भिलांय, साहबा, घटेरा, बावली गांव स्थित माध्यमिक स्कूलों मे रेड हैंड दिवस...

Udaypura News - mp news red hand celebrates children not to join in armed conflict
  • comment
गंजबासौदा| प्रसून संस्था द्वारा उदयपुर, भिलांय, साहबा, घटेरा, बावली गांव स्थित माध्यमिक स्कूलों मे रेड हैंड दिवस मनाया गया। संस्था सदस्यों ने बताया कि युद्ध और आतंकी घटनाओं में बच्चों के उपयोग के विरुद्ध प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय रेड हैंड डे मनाया जाता है। माध्यमिक स्कूलों में विद्यार्थियों को रेड हैंड डे क्यों मनाया जाता है इस विषय पर चर्चा करते हुए बताया कि यह दिवस 12 फरवरी को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत 2002 से की गई थी। रेड हैंड दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य दुनिया के कुछ देशों में जैसे अफगानिस्तान, सीरिया, अंगोला, लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो, इराक, इजराइल, फिलीस्तीन, सोमलिया, नेपाल, श्रीलंका जैसे देश शामिल हैं।

सशस्त्र संघर्षों में इस्तेमाल किए जा रहे हैं बच्चों का जीवन बहुत खतरनाक और कठिन परिस्थितियों में बीतता है। यहां वे लगातार हिंसा के साए में रहते हैं और उन्हें हर समय गोली या बम के शिकार होने का खतरा बना रहता है। उनका जीवन बहुत कम होता है और वह छोटी उम्र में हीं कई तरह की शारीरिक व मानसिक बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। बच्चों के सैनिक उपयोग की निंदा और इसके अंत के लिए हर साल यह दिवस मनाया जाता है ताकि दुनिया भर में कहीं भी बच्चों को सशस्त्र संघर्ष में शामिल न किया जाए। इस मौके पर प्रमोद पटेरिया, चेतना भावसार, सीमा भार्गव, वीरसिंह लोधी, बदन सिंह, देवकीनंदन दुबे, राहुल यादव, दौलतराम मोगिया, ज्योति शर्मा, मिथलेश सेन सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

X
Udaypura News - mp news red hand celebrates children not to join in armed conflict
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें