• Hindi News
  • Mp
  • Raisen
  • Begumganj News mp news the construction agencies did not prepare the bass nor the drainage system before making the culvert

निर्माण एंजेसियों ने पुलिया बनाने से पहले न बैस तैयार किया और न ही पानी निकासी की व्यवस्था

Raisen News - पानी निकासी के कारण पुल-पुलिया हो रही क्षतिग्रस्त। मानीटरिंग के अभाव में ठेकेदार करते हैं मनमर्जी, अफसर और...

Nov 11, 2019, 06:36 AM IST
पानी निकासी के कारण पुल-पुलिया हो रही क्षतिग्रस्त।

मानीटरिंग के अभाव में ठेकेदार करते हैं मनमर्जी, अफसर और जनप्रतिनिधि भी नहीं देते हैं समस्या पर ध्यान

भास्कर संवाददाता| बेगमगंज

ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे निर्माण कार्यों में ठेकेदार व अधिकारियों की सांठगांठ से मनमाने कार्य कर शासन को चूना लगाया जा रहा है। कही सड़कों के निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा जा रहा तो कहीं नहरे घटिया बनाई जा रही है। अब मामला सामने आया है कि पुलियों का निर्माण बिना बैस उठाए ही कर दिया गया जिससे कि पानी की निकासी ही संभव नहीं है।

गोपालपुर गांव से लेकर पीरपहाड़ी, कोकलपुर, महूना गुजर तक बनाए जा रहे मार्ग पर बनाई गई जितनी भी पुलिए है वहां पर पानी निकासी का ध्यान नहीं रखा गया है। इस मार्ग पर बनाई गई पुलियों में बैस ऊपर न उठाकर जमीन की गहराई पर पाइप डालकर पुलियों का निर्माण कर दिया गया है। जिससे इन पुलियों की गुणवत्ता पर सवाल खड़े हो रहे हैं। मुरम बोल्डर का खर्चा बचाने के चक्कर में ठेकेदार ने जमीन की सतह को खोदकर सड़क के बराबर करने के चक्कर में पुलिया का निर्माण कर दिया है। जिसके चलते ग्रामीणों के लिए ठेकेदार ने बारिश के लिए नई परेशानी खड़ी कर दी है। दरअसल निर्माण कार्य के दौरान संबधित विभाग के अफसर मानीटरिंग नहीं करते है न मूल्यांकन करते हैं।

ठेकेदार के दस्तावेजों के आधार पर ही पेमेंट करवा देते है और यही वजह है कि ग्रामीण अंचलों में घटिया निर्माण होने के बावजूद भी निर्माण एजेंसी के ठेकेदारों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

हालत यह है कि कई जगह यह पुलिया अभी से चटकने लगी है। जिससे आने वाले समय में ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

जहां पानी निकासी वहां बनती है पुलिया : पुलियों का निर्माण ऐसे स्थान पर किया जाता है जहां से पानी की निकासी की व्यवस्था हो लेकिन मार्ग निर्माण करने वाले लोनिवि के ठेकेदार द्वारा कई जगहों पर पुलिया निर्माण के लिए इतने नीचे पाइप डाले है कि बारिश का पानी निकल ही नहीं पाएगा। अफसर भी इस ओर ध्यान ही नहीं दे रहे है जिसके चलते ठेकेदार मनमर्जी से निर्माण कार्य कर रहे हैं।

कई जगह यह पुलिया अभी से चटकने लगी है, इससे ग्रामीणों को आने वाले समय में होगी परेशानी

ग्रामीणों ने खोला माेर्चा बना रहे रणनीति

इस तरह ठेकेदार द्वारा निर्माण में किए जा रहे फर्जीवाड़े और घटिया निर्माण करने को लेकर ग्रामीण लामबंद हो गए है। ग्रामीणों ने बताया कि पूर्व में निर्माण के दौरान अफसरों से माैखिक रूप से शिकायत की थी लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया था। अफसर ठेकेदार पर न कार्रवाई कर रहें है न ही उनमें सुधार कार्य करवा रहे हैं। ग्रामीणों ने फिलहाल कलेक्टर उमाशंकर भार्गव को पत्र भेजकर मार्ग का निरीक्षण करवाने और पुलिया को पानी निकासी के साथ बनवाने की बात कही है। ऐसा न होने पर ग्रामीण चरणबद्ध होकर आंदोलन करेंगे।

जांच कर करवाएंगे सुधार


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना