• Hindi News
  • Mp
  • Raisen
  • Silwani News mp news vegetable is not up for auction arrangement of permanent vegetable market vendors are facing problems

सब्जी नीलामी के लिए नहीं है स्थाई सब्जी मंडी की व्यवस्था, विक्रेताओं को हो रही है परेशानी

Raisen News - सब्जी विक्रेताओं को सर्दी, गर्मी व बरसात में खुले आसमान तले सब्जी नीलामी का कार्य करना पड़ता है विधानसभा...

Feb 15, 2020, 09:31 AM IST
Silwani News - mp news vegetable is not up for auction arrangement of permanent vegetable market vendors are facing problems

सब्जी विक्रेताओं को सर्दी, गर्मी व बरसात में खुले आसमान तले सब्जी नीलामी का कार्य करना पड़ता है

विधानसभा मुख्यालय होने के बावजूद भी नगर में स्थाई सब्जी मंडी की व्यवस्था नहीं है। स्थाई सब्जी मंडी की व्यवस्था न होने से सब्जी उत्पादक किसानों को सब्जी की नीलामी का कार्य बस स्टैंड परिसर में करना पड़ रहा है। बस स्टैंड परिसर में सब्जी नीलामी का कार्य होने ने से न केवल अव्यवस्था फैलती है, बल्कि बस स्टैंड परिसर में प्रवेश करने वाले वाहनों के चालको को भी परेशानी उठाना पड़ती है।

स्थाई रूप से सब्जी मंडी की व्यवस्था नहीं होने से फुटकर सब्जी विक्रेता नगर से निकले स्टेट हाईवे 44 के किनारे सब्जी की दुकानें लगाते हैं। सब्जी मंडी के लिए स्थाई रूप से जगह की व्यवस्था न होने से सब्जी नीलामी का कार्य वर्तमान में बजरंग चौराहा के समीप स्थित बस स्टैंड परिसर में किया जा रहा है। बस स्टैंड परिसर में थोक सब्जी की नीलामी होने से वाहनों के साथ ही पैदल गुजरने वालों को आवागमन में परेशानी उठाना पड़ रही है। प्रतिदिन ही सुबह के समय थोक रूप में सब्जी की नीलामी का कार्य सब्जी उत्पादकों के द्वारा किया जाता है। सब्जी उत्पादक किसान जैसीनगर, सियरमऊ, सागर, बरेली, बाड़ी सहित तहसील के अनेक छोटे-छोटेे स्थानों से सब्जी विक्रय करने के लिए आते हैं, लेकिन सब्जी उत्पादक किसानों को सब्जी नीलामी कार्य के दौरान अनेक प्रकार की दिक्कतों का सामना भी करना पड़ता है। उन्हें सर्दी, गर्मी व बरसात के मौसम में खुले आसमान तले सब्जी नीलामी का कार्य करना पड़ता है। जो कि कष्टदायक होता है।

40 से 50 क्विंटल सब्जी की होती है नीलामी : नगर की अस्थाई सब्जी मंडी में प्रतिदिन जैसीनगर, सियरमऊ, बरेली, बाड़ी सहित अनेक गावों से सब्जी उत्पादक किसान सब्जी की फसल लेकर आते हैं। स्थानीय एजेंटों से नीलामी का कार्य पूर्ण कराते है। बताया जा रहा है कि प्रतिदिन सब्जी मंडी में 40 से 50 क्विंटल विभिन्न सब्जी की नीलामी का कार्य होता है। फुटकर दुकानदार व डोर टू डोर जाकर सब्जी विक्रय करने वाले सब्जी विक्रेता यहां से नीलामी में सब्जी क्रय करते है। इसके अतिरिक्त आलू थोक रूप में प्रति बुधवार को भोपाल से अनेकों क्विंटल नगर में गैरतगंज व भोपाल के व्यापारियों के द्वारा लाया जाकर विक्रय किया जाता है।

दिक्कत कम नही: मंडी में विचरण करते मवेशी भी बन रहे परेशानी का कारण

मवेशी करते हैं परेशान

आवारा विचरण करने वाले मवेशी भी सब्जी नीलामी के लिए आने वाले सब्जी उत्पादक किसानों के लिए परेशानी का कारण भी बनते हैं। सब्जी नीलामी के दौरान मवेशी फुटपाथ पर लगने वाली दुकानों में घुस कर कर न केवल सब्जी खाते हैं, बल्कि सब्जी को पैरो से रौंद कर तहस-नहस कर देते है। जिससे सब्जी विक्रय करने आने वाले सब्जी उत्पादक किसानों आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ता है।

बारिश में होती है परेशानी

सब्जी नीलामी कार्य किए जाने के लिए स्थाई व्यवस्था नहीं होने से बस स्टैंड परिसर में सब्जी नीलामी का कार्य प्रतिदिन किया जा रहा है। सर्दी व गर्मी के मौसम में तो जैसे-तैसे नीलामी का कार्य संपन्न हो जाता हैं। लेकिन बरसात के मौसम में सब्जी मंडी में सब्जी विक्रय करने आने वाले सब्जी उत्पादक किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। बरसते पानी में सब्जी नीलामी का कार्य किया जाता है।

अब भी स्टेट हाईवे किनारे लगती हैं दुकानें

फुटकर सब्जी विक्रेताओं के लिए भी स्थाई रूप से हॉकर्स कार्नर की व्यवस्था भी तहसील मुख्यालय पर नहीं है। स्थाई व्यवस्था के अभाव में फुटकर सब्जी विक्रेता स्टेट हाईवे 44 के किनारे पुलिस के पास, गांधी चौक, बजरंग चौराहा और उदयपुरा रोड पर सब्जी की दुकानें लगा कर व्यवसाय करते हैं। इस स्थानों पर दुकानें लगी होने से न केवल जाम की स्थिति निर्मित होती है, बल्कि हादसा होने का खतरा भी बना रहता है। जाम लग जाने से विवाद की स्थिति भी निर्मित हो जाती है। फुटकर सब्जी विक्रेता नेतराम कुशवाह, मनोहर कुशवाह, सुरेश कुमार, पुरुषोत्तम शैजवार ने प्रशासन से स्थाई रुप से सब्जी मंडी व हॉकर्स कार्नर की व्यवस्था किए जाने की मांग की है।

की जाएगी व्यवस्था


सब्जी मंडी के लिए स्थान सुरक्षित नहीं होने से लोगों को होती है परेशानी।

X
Silwani News - mp news vegetable is not up for auction arrangement of permanent vegetable market vendors are facing problems
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना