जिले में बनेंगी 30 गोशाला, 15 के लिए स्थान चिन्हित पर स्पष्ट गाइड लाइन न होने से शुरू नहीं हुआ काम

Raisen News - कलेक्टर ने बैठक में जमीन का चिन्हांकन करके काम शुरू करने के दिए निर्देश भास्कर संवाददाता| रायसेन प्रदेश...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:15 AM IST
Raisen News - mp news work will not be started in the district there is no clear guide line for 30 gosala 15 marks
कलेक्टर ने बैठक में जमीन का चिन्हांकन करके काम शुरू करने के दिए निर्देश

भास्कर संवाददाता| रायसेन

प्रदेश सरकार की मंशा के मुताबिक जिले में भी पंचायतों में गोशाला निर्माण के लिए प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक जिले को 30 गोशाला निर्माण का लक्ष्य मिला हुआ है। इसमें से 15 के लिए स्थान भी चिन्हित कर लिया गया है, लेकिन शासन की गाइड लाइन स्पष्ट न होने के कारण अभी काम शुरू नहीं हो पाया है। हालांकि बुधवार को गौशाला परियोजना के जिले में प्रभावी क्रियान्वयन के लिए कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा ने बैठक कर संबंधित अधिकारियों को गौशाला निर्माण के लिए निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा है कि गौशाला निर्माण के लिए उपयुक्त भूमि का चयन कर आवंटन की कार्यवाही के बाद शीघ्र गौशाला निर्माण की कार्यवाही प्रारंभ करने के निर्देश दिए। कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा ने गौशाला निर्माण के साथ ही चारागाह के लिए सरकारी भूमि का चयन कर आवंटन के बाद चारागाह विकास की कार्यवाही शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्थल चयन के संबंध में कहा कि इस बात का ध्यान रखा जाए कि परियोजना के मुताबिक प्रति गौशाला की क्षमता लगभग 100 गोवंश की हो। इससे गौशाला की क्षमता का पूरा उपयोग हो सके। साथ ही चारागाह के विकास में जो सरकारी जमीन उपयोग होगी, उसका स्वामित्व शासन का ही रहेगा। उसे किसी स्थानीय निकाय को आवंटित करने की आवश्यकता नहीं है। यह भूमि तय काम के लिए पंचायत को दी जाएगी।

ग्राम पंचायतें गौ शाला का करेंगी संचालन

उन्होंने कहा कि पंचायत गौशाला का निर्माण करने के साथ-साथ उनके संचालन का कार्य भी करेगी । विभिन्न मदों से चारे और भूसे की व्यवस्था के लिए आवश्यक राशि पंच परमेश्वर पोर्टल के माध्यम से पंचायतों को उपलब्ध कराई जाएगी। पंचायत यदि गौशाला का संचालन किसी संस्था के माध्यम से करना चाहे तो वह जिला समन्वय समिति को सूचित करेगी तथा समन्वय समिति द्वारा संस्था की दक्षता एवं निष्ठा को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया जाएगा। गौशाला जिस पंचायत में स्थित रहेगी उसके आसपास की पंचायतों तथा नगरीय क्षेत्रों के गोवंश को भी वहां रखा जा सकेगा। बैठक में डीएफओ राजेश कुमार खरे, उप संचालक कृषि एनपी सुमन, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ प्रमोद अग्रवाल, सहायक संचालक उद्यानिकी एनएस तोमर और पीओ मनरेगा अखिलेश द्विवेदी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

X
Raisen News - mp news work will not be started in the district there is no clear guide line for 30 gosala 15 marks
COMMENT