पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मतदान दल को नहीं मिला खाना, भूख से तरसते रहे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुरा| यूं तो विधानसभा चुनाव 2018 के लिए कर्मचारियों की ड्यूटी बड़े स्तर पर लगाई गई थी। एक विधानसभा के कर्मचारियों को मतदान कराने के लिए दूसरे विधानसभा पहुंचाया गया। इसी तारतम्य सिलवानी विधानसभा पहुंचे उदयपुरा विधानसभा के कर्मचारी काफी परेशान रहे और उन्हें मतदान बूथ पर खाने के लिए तरसना पड़ा नजारा है।

उत्कृष्ट विद्यालय सिलवानी का जहां उस कैंपस के अंदर 4 से 5 मतदान केंद्र थे, परंतु शासकीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते 2 दिन तक इन मतदान दलों को खाना नसीब नहीं हुआ। बीएलओ और एसडीएम से बार-बार निवेदन करने के बावजूद भी यह मतदान दल के कर्मचारी भूखे रहे और किसी तरह से बाजार से नाश्ता इत्यादि स्वयं खरीद कर अपना पेट भरना पड़ा। जहां एक और शासन ने प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालय में संचालित मध्यान भोजन के समूह को मतदान दलों को भोजन प्रदान करने के लिए निर्देशित किया था, वहीं दूसरी ओर इन समूहों की लापरवाही नगर परिषद सिलवानी में देखने को मिली। जहां अधिकांश मतदान दल भोजन के लिए तरसे बीआरसी शैलेंद्र यादव और बीईओ नरेश रघुवंशी से जब इस विषय में चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि समूहों को भोजन प्रदान करने के लिए बाकायदा पत्र जारी कर दिए गए हैं। परंतु उन्होंने खाना क्यों नहीं दिया यह जांच का विषय है कि जल्द ही इसकी जांच कराई जाएगी। नगर परिषद के अंतर्गत आने वाले मतदान केंद्रों पर भी यही स्थिति बनी है जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में समूह द्वारा खाना प्रदान किया गया है।

खबरें और भी हैं...