• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Raisen
  • Raisen - 25 बैलगाड़ियां लेकर युकां ने निकाली रैली, रोड पर ही ज्ञापन लेने पर 15 मिनट विवाद, बिगड़ा ट्रैफिक
--Advertisement--

25 बैलगाड़ियां लेकर युकां ने निकाली रैली, रोड पर ही ज्ञापन लेने पर 15 मिनट विवाद, बिगड़ा ट्रैफिक

तहसील कार्यालय में उस समय ऐसी स्थिति बन गई, जब डीजल, पेट्रोल और गैस की मूल्य वृद्धि को लेकर विरोध कर रहे...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 03:41 AM IST
तहसील कार्यालय में उस समय ऐसी स्थिति बन गई, जब डीजल, पेट्रोल और गैस की मूल्य वृद्धि को लेकर विरोध कर रहे कांग्रेसियों ने तहसीलदार से बैलगाड़ी के पास आकर ही ज्ञापन लेने की जिद की। तहसीलदार सुशील कुमार भी कार्यालय के सामने ज्ञापन लेने के लिए खड़े रहे। इस तरह 15 मिनट तक दोनों ही अपनी अपनी बात पर अड़े हुए थे। ऐसी स्थिति में जब बात बिगड़ने लगी तो तहसीलदार ने बैलगाड़ी पर खड़े पूर्व विधायक प्रभुराम चौधरी और युकां के जिला अध्यक्ष राजेंद्र मीणा के पास पहुंचकर ज्ञापन लिया तब मामला शांत हुआ।

जुलूस पूर्व विधायक प्रभुराम चौधरी के कार्यालय से प्रारंभ हुआ। इस जुलूस में 25 बैलगाड़ियों पर कांग्रेस कार्यकर्ता सवार होकर निकले तो कुछ साइकिल चलाते हुए और कुछ पैदल चलकर हाथों में झंडे लेकर निकले। प्रदेश और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेसी तहसील कार्यालय पहुंचे। यहां पर उन्होंने नारेबाजी कर विरोध दर्ज कराया। जुलूस में युकां के वीर सिंह पटेल, लालजी ठाकुर, ब्रजेश चतुर्वेदी, हकीमउद्दीन मंसूरी, रघुवीर मीणा, विकास शर्मा, रूपेश तंतवार आदि शामिल हुए।

जुलूस के कारण शहर में रोकना पड़ा ट्रैफिक

जहां-जहां से जुलूस निकला, वहां से ट्रैफिक को डायवर्ट मार्ग से निकाला गया या फिर कुछ देर तक वाहनों को सड़क किनारे खड़ा कराया गया। जुलूस निकलने के बाद ही वाहनों को जाने दिया गया। इससे सड़क पर जगह-जगह वाहनों की लाइनें लग गई।