• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Rajgarh
  • रेसई बांध परियोजना से 50 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि में होगी सिंचाई
--Advertisement--

रेसई बांध परियोजना से 50 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि में होगी सिंचाई

Dainik Bhaskar

Mar 28, 2018, 07:15 AM IST

Rajgarh News - भास्कर संवाददाता| नरसिंहगढ़ पार्वती नदी पर बनाए जाने वाले रेसई बांध की परियोजना को अब केवल मंत्रिपरिषद की...

रेसई बांध परियोजना से 50 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि में होगी सिंचाई
भास्कर संवाददाता| नरसिंहगढ़

पार्वती नदी पर बनाए जाने वाले रेसई बांध की परियोजना को अब केवल मंत्रिपरिषद की मंजूरी का इंतजार है। जैसे ही मंजूरी मिलेगी इसके टेंडर लगा दिए जाएंगे। यह जानकारी विधायक गिरीश भंडारी ने मंगलवार को दैनिक भास्कर से चर्चा में दी। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों जल संसाधन विभाग के अपर प्रमुख सचिव राधेश्याम जुलानिया से उन्होंने इस विषय में मुलाकात की थी। पूरी परियोजना 25 सौ करोड़ रुपए की है जिसके पहले फेज में 18 सौ करोड़ रुपए के टेंडर लगेंगे। इसमें बांध और डूब क्षेत्र में आने वाले लोगों के विस्थापन पर होने वाला खर्च शामिल है।

50 हजार हेक्टेयर: क्षेत्र में होगी सिंचाई।

12 गांव: आ रहे हैं डूब क्षेत्र में, इनमें राजगढ़ और सीहोर जिले के गांव शामिल हैं। जिनमें 5 गांव पूर्ण रूप से और 7 गांव आंशिक रूप से डूब क्षेत्र में आएंगे।

धार्मिक पर्यटन केंद्र के रूप में बनेगा सांका श्याम जी का नया लुक : परियोजना में प्राचीन सांका श्याम जी क्षेत्र धार्मिक पर्यटन केंद्र के रुप में विकसित किया जाएगा। इसी के पास मौजूद फतेहपुर गांव की दोनों पहाड़ियों के बीच बांध का भराव क्षेत्र बनेगा। फतेहपुर गांव में फिलहाल 2 ही परिवार निवास कर रहे हैं, जिनका जल्दी ही व्यवस्थित विस्थापन किया जाएगा।

मंत्री परिषद की मंजूरी का है इंतजार, इसके बाद लगेंगे टेंडर

12 गांव डूब क्षेत्र में, इनमें राजगढ़ और सीहोर जिले के गांव शामिल

टेंडर के पहले कंस्ट्रक्शन कंपनी के चयन की प्रक्रिया होगी

क्योंकि परियोजना काफी खर्चीली है, इसके लिए टेंडर देने के पहले कंस्ट्रक्शन कंपनियों के चयन की प्रक्रिया शासन स्तर से अपनाई जाएगी। टेंडर में शामिल होने वाली कंपनियां बांध के लिए अपनी प्लानिंग और मशीनरी की जानकारी विभाग को देंगी। उसके बाद योग्यता और क्षमता के आधार पर कंपनियों का चयन कर उन्हें टेंडर प्रक्रिया में शामिल किया जाएगा।

पहले फेज में बांध और दूसरे में उप नहरें बनाई जाएंगी


X
रेसई बांध परियोजना से 50 हजार हेक्टेयर कृषि भूमि में होगी सिंचाई
Astrology

Recommended

Click to listen..