आंधी के साथ बारिश, समर्थन मूल्य खरीदी केंद्रों अाैर खलिहानों में खुले में रखा 5 हजार क्विंटल गेहूं भीगा

Rajgarh News - राजस्थान के ऊपर बना सिस्टम राजगढ़ जिले की तरफ झुक गया है। इसके कारण मंगलवार शाम को जिलेभर में आंधी चली अाैर गरज-चमक...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:45 AM IST
Rajgarh News - mp news rain accompanied by storm support prices were purchased in open centers and 5000 quintals of wheat kept in open in paddy
राजस्थान के ऊपर बना सिस्टम राजगढ़ जिले की तरफ झुक गया है। इसके कारण मंगलवार शाम को जिलेभर में आंधी चली अाैर गरज-चमक के साथ बारिश हुई। शहर में करीब 20 मिनट तक हुई बारिश के दौरान आंधी भी चली। आकाशीय बिजली गिरने से पड़ाना में एक महिला की मौत हो गई। इन दिनाें जिले में समर्थन मूल्य पर खरीदा करीब 10 हजार बाेराें में करीब 5000 क्विंटल गेहूं खुले में रखा है। राजगढ़, ब्यावरा सहित जिले के अन्य स्थानों पर भी बारिश के कारण खुले में रखा हजाराें क्विंटल गेहूं भीग गया। इसके साथ ही करीब 15 प्रतिशत रकबे में खड़ी या खेत खलिहानों में काट कर रखी फसल काे भी भीगने से नुकसान हुअा है।

मंगलवार सुबह करीब पांच बजे हल्की बारिश हाेने के बाद मौसम साफ हो गया। इसके बाद दोपहर दो बजे के बाद बादल छाने लगे अाैर शाम पांच बजे आंधी चलने लगी। इस दौरान करीब 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली। इस बीच करीब 20 मिनट तक हुई इस बारिश से जिलेभर के खरीदी केंद्रों पर रखा हजारों क्विंटल गेहूं बारिश में भीग गया। वहीं पड़ाना में जंगल से बकरी चराकर अा रही 65 वर्षीय साबूबाई जाटव पानी से बचने स्कूल परिसर में जा रही थी, तभी मैदान में आकाशीय बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई।

बिजली गिरने से महिला की माैत, 15 फीसदी रकबे की फसल भी भीगी

हवा के दबाव के चलते ऐसे बना सिस्टम

हवा के दबाव के चलते क्षेत्र में अचानक मौसम खराब हाे गया है। मौसम विभाग के वैज्ञानिक डाॅ एसके डे ने बताया कि अप्रैल महीना सामान्यत: सूखा रहता है। इसके चलते हवा में नमी कम रहती है। यदि मौसम में नमी आ जाती है तो वह तेजी से ऊपर की ओर जाती है। इस समय ऊपरी भाग में तेज हवा चलती है जिसके संपर्क में आते ही यह नमी तेज हवा के साथ नीचे आ जाती है। अभी सिस्टम भी इसी तरह का बना हुआ है। इसके चलते क्षेत्र में तेज हवा के साथ बारिश हो रही। इस तरह का सिस्टम बनने से क्षेत्र में 70 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के आसार हैं।

जिले में 75 केंद्रों में भीगा गेहूं तिरपाल से भी नहीं ढंका गया

इस समय जिलेभर के 75 खरीदी केंद्रों पर समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की जा रही है। इस दाैरान खुले में रखा गेहूं अचानक बारिश आने से भीग गया। आंधी अाैर हवा के साथ आई बारिश के दौरान तिरपाल से इन गेहूं को ढका भी नहीं जा सका। इसी बीच तेज बारिश हो गई। हालांकि शाम छह बजे से दोबारा मौसम साफ हो गया। इसके चलते ज्यादा नुकसान की आशंका नहीं है।

रात का तापमान आठ डिग्री और दिन का चार डिग्री घटा, हवा में घुली ठंडक

क्षेत्र में अचानक मौसम में हुए बदलाव के चलते रात के तापमान में आठ डिग्री और दिन के तापमान में चार डिग्री की कमी आई है। मौसम विभाग के आरएस गोयल के अनुसार सोमवार को दिन का अधिकतम तापमान 40.5 डिग्री सेल्सियस था जो मंगलवार को घटकर 36 डिग्री पर आ पहुंचा। इसी तरह सोमवार को रात का न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस था जो मंगलवार को घटकर 19 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा।

15 प्रतिशत रकबे में कटी अाैर खड़ी फसलाें काे नुकसान की अाशंका: कृषि उप संचालक बीएल मालवीय ने बताया कि जिले में करीब 10-15 प्रतिशत रकबे में अभी या ताे फसल खड़ी है या किसानाें ने इसे काटकर खेत-खलिहानाें में रखा है।

खुले में रखा समर्थन मूल्य का हजारों क्विंटल गेहूं भीगा

ब्यावरा| क्षेत्र में सोमवार रात, मंगलवार सुबह और फिर दोपहर करीब 3 बजे कहीं बूंदाबांदी तो कहीं अच्छी बारिश हुई। ब्यावरा, सुठालिया, मलावर आदि क्षेत्रों में दोपहर बाद कई बूंदाबांदी तो कहीं तेज बारिश हुई। इससे कई उपार्जन केंद्रों सहित खुले में रखा गेहूं भी भींग गया।


X
Rajgarh News - mp news rain accompanied by storm support prices were purchased in open centers and 5000 quintals of wheat kept in open in paddy
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना