विज्ञापन

42 दिनों में 2114 किसानों के ही हो सके पंजीयन, 270 किसान छूट गए

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 04:40 AM IST

Rajgarh News - खरीदी केंद्र पर एक ही कंप्यूटर ऑपरेटर से काम कराए जाने और ठीक से सर्वर नहीं मिलने से बनी स्थिति भास्कर संवाददाता...

Sarangpur News - mp news registration of 2114 farmers in 42 days 270 farmers left
  • comment
खरीदी केंद्र पर एक ही कंप्यूटर ऑपरेटर से काम कराए जाने और ठीक से सर्वर नहीं मिलने से बनी स्थिति

भास्कर संवाददाता | छापीहेड़ा

किसानों द्वारा शासन को समर्थन मूल्य पर अपनी उपज बेचने के लिए अपना पंजीयन कराना अनिवार्य है। इसके चलते शासन द्वारा मार्केटिंग सोसायटियों के माध्यम से विभिन्न स्थानों पर खोले गए खरीदी केंद्रों पर 21 जनवरी से 15 मार्च तक किसानों की उपज के पंजीयन किए गए। लेकिन स्थानीय सोसायटी के खरीदी केंद्र पर पंजीयन कार्य धीमी गति से होने और कम स्टाफ के कारण सभी किसानों का पंजीयन नहीं किया जा सका। अंतिम तारीख को पंजीयन होने के बाद भी 270 किसान अपना पंजीयन कराने से वंचित रह गए। अब उन्हें सरकारी की समर्थन मूल्य पर उपज बेचने का लाभ नहीं मिल सकेगा।

मार्केटिंग सोसायटी द्वारा मंडी परिसर में चना, गेहूं, मसूर, रायड़ा आदि रबी की फसलों का पंजीयन किया गया। मंडी में 3 तहसील जीरापुर, सारंगपुर व खिलचीपुर तहसीलों के 100 से अधिक गांव जुड़े हैं। इन गांव से किसान छापीहेड़ा के खरीदी केंद्र पर उपज लेकर आते हैं। इतनी अधिक संख्या में गांव के सैकड़ों किसान जुड़े होने के बाद भी पंजीयन कार्य के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं नहीं की गईं। एक ऑपरेटर के भरोसे पंजीयन किए गए। उसमें भी सर्वर स्लो चलने जैसी समस्या बनती रही। इस कारण किसानों के पंजीयन नहीं हो पाए। जबकि 28 फरवरी की अंतिम तारीख को बढ़ाकर 15 मार्च की गई। इसके बावजूद किसान पंजीयन से वंचित रह गए।

2114 किसानों का हुआ पंजीयन : खरीदी केंद्र पर 21 जनवरी से अंतिम खरीद 15 मार्च तक तीनों तहसीलों के 2 हजार 114 आवेदकों के पंजीयन ही सके। वहीं 270 पंजीयन शेष रह गए। पिछले वर्ष मंडी, मार्केटिंग और ग्राम पंचायत तीनों ने मिलकर पंजीयन कार्य किया था। लेकिन इस बार सिर्फ सोसायटी द्वारा ही यह कार्य किया गया। इससे सैकड़ों किसान योजना का लाभ लेने से वंचित हो गए हैं।

कुछ पंजीयन रह गए

पिछले साल तीन विभागों ने मिलकर काम किया था। इससे सभी के पंजीयन हो गए थे। इस बार हमारे ही द्वारा काम करने से कुछ किसान पंजीयन से वंचित रहे गए हैं। हमने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया है।-गंगाधर दांगी, मार्केटिंग सोसायटी प्रभारी, छापीहेड़ा

X
Sarangpur News - mp news registration of 2114 farmers in 42 days 270 farmers left
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन