कथा... पहले दूसरे के हित के लिए सोचना चाहिए

Rajgarh News - पचोर| मनुष्य को सदैव सहज और सरल स्वभाव से जीवनयापन कर अपने से पहले दूसरे के हित के लिए सोचना चाहिए। पवित्र आत्मा...

Feb 15, 2020, 08:41 AM IST

पचोर| मनुष्य को सदैव सहज और सरल स्वभाव से जीवनयापन कर अपने से पहले दूसरे के हित के लिए सोचना चाहिए। पवित्र आत्मा से परमात्मा का सुमिरन करने से ही पूजा सार्थक होती है। अगर हमारा मन सदैव दूसरों की बुराई में लीन रहे और ईश्वर की आराधना करे तो परमात्मा कभी खुश नहीं हो सकता। जो दूसरों के लिए अच्छा सोचता है परमात्मा ऐसे इंसानों का कभी बुरा नहीं होने देता। साथ ही जो लोग दूसरों का बुरा चाहते हैं भगवान उन लोगों का जीवन भर भला नहीं होने देते। उक्त बातें भोपालपुर गांव में चल रही श्रीमद् भागवत कथा के तीसरे दिन मालवा माटी के प्रसिद्ध संत गोविंद जाने ने कहीं। उन्होंने गुरुवार को पंडाल में मौजूद श्रद्धालुओं को धर्म का पाठ पढ़ाते हुए कथा का वाचन किया। कथा प्रतिदिन 12 से 3 बजे तक किया जा रहा है। इस दौरान आसपास के गांव से भी बड़ी संख्या में लोगे कथा सुनने पहुंच रहे है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना