• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • शहर में 8 घंटे घूमी दिल्ली की स्वच्छ सर्वेक्षण टीम, मई में आएगा रिजल्ट
--Advertisement--

शहर में 8 घंटे घूमी दिल्ली की स्वच्छ सर्वेक्षण टीम, मई में आएगा रिजल्ट

Ratlam News - स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के अंतर्गत गुरुवार को सर्वर बंद होने से टीम ने शनिवार को भी शहर की स्थिति का आकलन किया। टीम ने...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 03:05 AM IST
शहर में 8 घंटे घूमी दिल्ली की स्वच्छ सर्वेक्षण टीम, मई में आएगा रिजल्ट
स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के अंतर्गत गुरुवार को सर्वर बंद होने से टीम ने शनिवार को भी शहर की स्थिति का आकलन किया। टीम ने विशेष रूप से ऑन सेंट कंपोस्ट पिट (बगीचों के कचरे से बगीचों में ही खाद बनाना) काे देखा। कलेक्टोरेट व पशुपतिनाथ मंदिर में कंपोस्ट पिट खाद बनाने की प्रक्रिया समझी। कालाखेत, घंटाघर, सब्जी मंडी जैसे व्यावसायिक क्षेत्रों में लोगों को रोक-रोककर स्वच्छता की जानकारी ली। शासकीय कार्यालयों व स्कूलों में स्वच्छता के लिए किए जागरूकता कार्यक्रमों की जानकारी ली, दस्तावेज व फोटोग्राफ देखे। अंतिम दिन टीम ने 8 घंटे सर्वे किया। पांच दिन की रिपोर्ट के आधार पर अब परिणाम तैयार होगा।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के लिए कार्वी मैनेजमेंट कंपनी की टीम 26 फरवरी से शहर में सर्वे कर सफाई व्यवस्था की हकीकत जांच रही है। पहले दो तीन दिन दस्तावेज की जांच के साथ गोपनीय सर्वे भी कराया। बुधवार व गुरुवार से शहर का भ्रमण कर सफाई व्यवस्था की हकीकत को जांच रहा है। शुक्रवार को शासकीय अवकाश होने से स्वच्छ सर्वे का सर्वर भी बंद रह। ऐसे में टीम ने वापस शनिवार सुबह 11.30 बजे से काम शुरू किया। टीम ने दो से तीन जगह बगीचों में नपा द्वारा तैयार की किए गए ऑन सेंट कम्पोस्ट पिट भी देखे। इसमें बगीचों से निकलने वाले कचरे को सड़ाकर खाद तैयार की जा रही है। टीम ने शनिवार को कलेक्टोरेट बगीचे व पशुपतिनाथ मंदिर में सुलभ कॉम्प्लेक्स के पास बनाए कम्पोस्ट पिट को देखा। खाद बनाने की जानकारी लेते हुए फोटोग्राफ दिल्ली पहुंचाए। टीम ने करीब शाम 7.30 बजे तक सर्वे किया।

स्कूल में पहुंचे और देखे दस्तावेज- टीम बालागंज स्थित लोकमान्य तिलक स्कूल भी पहुंची। वहां स्टाफ से पूछा सफाई समिति बनाई या नहीं, स्वच्छ जागरूकता के लिए क्या-क्या काम किए। स्कूल संचालकों ने स्वच्छता जागरूकता के लिए शपथ समारोह, निबंध व अन्य प्रतियोगिताओं की जानकारी दी। फोटोग्राफ भी दिखाए। इसके बाद टीम धनगर मोहल्ला स्थित नवप्रभात बाल मंदिर पहुंची। यहां भी टीम ने स्वच्छता समिति व जागरूकता के लिए किए गए कार्यों की जानकारी ली।

रोक-रोककर की पूछताछ- टीम ने कालाखेत, घंटाघर, सब्जी मंडी जैसे व्यावसायिक क्षेत्रों में आने जाने वाले लोगों को रोक-रोककर स्वच्छता की जानकारी ली। सफाई, जागरूकता कार्यक्रमों के साथ शौचालय निर्माण की जानकारी ली। लोगों ने भी सकारात्मक फीडबैक ही दिया।

शनिवार को भी टीम के सदस्य ने शहर में जगह-जगह का भ्रमण किया।

संख्या अधिक होने से बढ़ी प्रतियोगिता

स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 में देश में एक से पांच लाख की आबादी वाले 500 शहरों के मध्य प्रतिस्पर्धा हुई थी। जो इस वर्ष 4 हजार शहरों के मध्य हो रही है। ऐसे में अब स्वच्छता के लिए प्रतिस्पर्धा भी बढ़ गई है।

सब अच्छा रहा, अब परिणाम का इंतजार


X
शहर में 8 घंटे घूमी दिल्ली की स्वच्छ सर्वेक्षण टीम, मई में आएगा रिजल्ट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..