• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • फिर हड़ताल, कर्मचारियों ने बुधवार को अचानक बंद की 108 एम्बुलेंस की सेवा
--Advertisement--

फिर हड़ताल, कर्मचारियों ने बुधवार को अचानक बंद की 108 एम्बुलेंस की सेवा

जनवरी में मांगों के निराकरण का कंपनी प्रबंधन द्वारा लिखित आश्वासन देने के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर बुधवार को...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:00 AM IST
जनवरी में मांगों के निराकरण का कंपनी प्रबंधन द्वारा लिखित आश्वासन देने के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर बुधवार को एम्बुलेंस कर्मचारी हड़ताल पर चले गए। अस्पतालों में पहले ही संविदा कर्मचारी हड़ताल पर है अब 108 एम्बुलेंस बंद हो गई। जननी एक्सप्रेस व डायल 100 मरीजों को लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचती रही। कर्मचारी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संचालक द्वारा समस्या समाधान किए जाने के बाद ही हड़ताल समाप्त करने की बात कह रहे हैं।

कर्मचारियों ने मोबाइल किए बंद

सुबह से 108 भोपाल मुख्यालय से कर्मचारियों के पास मरीजों के मामले आ रहे थे। कर्मचारियों ने हड़ताल की बात कहते हुए केस लेने से इंकार कर दिया। निरंतर फोन आने पर कर्मचारियों ने कंपनी द्वारा दिए सीयूजी नंबर भी बंद कर दिए। मांगे नहीं मानी तो उग्र आंदोलन करेंगे...108 एम्बुलेंस कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष राकेश शाक्यवार ने बताया कि कंपनी ने हमारी मांगों काे मानते हुए 20 दिन में निराकरण का लिखित में आश्वासन दिया था। जिसे आज तक पूरा नहीं किया गया। प्रदेश स्तर पर हड़ताल की गई है। अब जब तक एएनएचएम द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जाती या हस्तक्षेप नहीं किया जाता यह हड़ताल जारी रहेगी।

वैकल्पिक व्यवस्था करेंगे

सीएमएचओ महेश मालवीय ने बताया कि शासन ने जनवरी में 108 एम्बुलेंस कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से पहले वैकल्पिक व्यवस्था के निर्देश दिए थे। हमने एमपीडब्ल्यू कर्मचारियों को दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया था। जिले में वर्तमान में 77 एमपीडब्ल्यू कर्मचारी है। इनमें से 10 एम्बुलेंस पर 20 कर्मचारियों व रिजर्व स्टॉफ के साथ कुल 24 कर्मचारियों को तैयार किया था। इन कर्मचारियों की सहायता से 108 एम्बुलेंस सेवा को जारी रखने का प्रयास किया जाएगा।