• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • दो कांस्टेबलों ने बिछड़ी बालिका को ढूंढकर घर वालों तक पहुंचाया
--Advertisement--

दो कांस्टेबलों ने बिछड़ी बालिका को ढूंढकर घर वालों तक पहुंचाया

पिता के साथ गुरुवार को हाट बाजार में आई तीन वर्षीय बालिका बिछड़ गई। वाट्सएप पर मैसेज वायरल कर पुलिस ने एक घंटे में...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:05 AM IST
पिता के साथ गुरुवार को हाट बाजार में आई तीन वर्षीय बालिका बिछड़ गई। वाट्सएप पर मैसेज वायरल कर पुलिस ने एक घंटे में परिजन को ढूंढा और बालिका को ग्वालीपाड़ा उसके परिवार के पास पहुंचाया।

जानकारी के अनुसार गुरुवार को हाट बाजार से तीन वर्षीय बेटी के गुम होने की शिकायत लेकर ग्राम सादेड़ा निवासी शंभुलाल रावटी थाने पहुंचा। आरक्षक अतुल दुबे और ईश्वरलाल धाकड़ थाने से बालिका को ढूंढने निकले। शाम करीब 5 बजे एक दुकान में रोती हुई चार वर्षीय बालिका मिली जिसके माता-पिता नहीं मिल रहे थे। दोनों आरक्षक उसे थाने ले गए। रोती हुई बालिका को चुप करवाकर पूछताछ की तो उसने खुद का नाम कविता और पिता का नाम पीरू बताया। स्पष्ट हुआ कि यह शंभूलाल की बेटी नहीं है। दोनों आरक्षकों ने माता-पिता को ढूंढने के लिए कविता का फोटो वाट्सएप पर अपलोड कर दिया। शाम 6 बजे मैसेज देखकर किसी ने बालिका कविता के पिता ग्वालीपाड़ा निवासी पीरूलाल पारगी की जानकारी दी। दोनों आरक्षकों ने कविता को ग्वालिपाड़ा पहुंचाया। शंभूलाल को बाजार में उसकी बेटी भी मिल गई।

थाने मंे मौजूद बालिका।