• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • ठेकेदार ने ग्यारंटी के 15 लाख रुपए जमा कराए, पत्र लिखा, नगर निगम लेआउट डाले तो संवरने लगें बगीचे
--Advertisement--

ठेकेदार ने ग्यारंटी के 15 लाख रुपए जमा कराए, पत्र लिखा, नगर निगम लेआउट डाले तो संवरने लगें बगीचे

अमृतसागर और कालिकामाता बगीचे का सौंदर्यीकरण तीन माह से अटका है। ठेकेदार नगर निगम को दो बार लिखित में दे चुका है कि...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:30 AM IST
अमृतसागर और कालिकामाता बगीचे का सौंदर्यीकरण तीन माह से अटका है। ठेकेदार नगर निगम को दो बार लिखित में दे चुका है कि ले-आउट डालकर काम चालू करवाया जाए किंतु निगम के इंजीनियर ध्यान नहीं दे रहे।

अमृत मिशन के तहत 3 करोड़ में बगीचों की सूरत बदलने के लिए बनाए प्रोजेक्ट को राज्य स्तरीय तकनीकी समिति की मंजूरी के बाद निगम ने जनवरी में स्वीकृति लेटर और उसके बाद वर्क ऑर्डर जारी कर दिया है। खरगोन का ठेकेदार एग्रीमेंट करवाकर बैंक गारंटी के रूप में 15 लाख रुपए जमा करा चुका है, बावजूद निगम अब तक काम चालू नहीं करवा पाया है। अभी गर्मी का मौसम है, तेजी से काम हो सकता है। यह निकल गया तो बारिश में काम चालू नहीं हो पाएगा। ऐसे में प्रोजेक्ट पांच से सात माह तक अटक सकता है। निगम कमिश्नर एसके सिंह ने बताया सारी प्रक्रिया हो गई है। कालिकामाता और अमृत सागर बगीचों का सौंदर्यीकरण का कार्य जल्द शुरू करवा दिया जाएगा। काम एसएलटीसी से स्वीकृत प्लान के अनुसार ही होगा।

अमृत मिशन के तहत 3 करोड़ रुपए से होना है अमृतसागर और कालिकामाता बगीचे का सौंदर्यीकरण

अमृत सागर बगीचा अभी इस हालत में है।

ऐसे बदलेगी दशा

अमृत सागर बगीचा

क्षेत्र-
12.7 बीघा

लागत- 1.37 करोड़ रुपए

क्या-क्या होगा- पेविंग प्लाजा, किड्स प्ले एरिया, टॉयलेट ब्लॉक व पार्किंग एरिया सहित नए पेड़-पौधे भी लगाए जाएंगे।

कालिकामाता बगीचा

क्षेत्र- 12 बीघा

लागत- 1.61 करोड़ रुपए

क्या-क्या होगा- पेविंग, प्लाजा और साइनेज वर्क, बैठने के लिए छज्जे, प्री-कास्ट सीटर, मनोरंजक उपकरण सहित सजावटी प्लांट भी लगाए जाएंगे।