रतलाम

  • Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • मामला गोली खाने से संत मीरा स्कूल के 20 बच्चे बीमार होने का
--Advertisement--

मामला गोली खाने से संत मीरा स्कूल के 20 बच्चे बीमार होने का

संत मीरा स्कूल में पेट के कीड़े मारने की दवा खिलाने के बाद शुक्रवार को बच्चों की तबीयत बिगड़ने के बाद निजी स्कूल...

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2018, 04:50 AM IST
संत मीरा स्कूल में पेट के कीड़े मारने की दवा खिलाने के बाद शुक्रवार को बच्चों की तबीयत बिगड़ने के बाद निजी स्कूल संचालकों ने बच्चों को दवा खिलाने से मना कर दिया है। उनका कहना है यदि बच्चों के साथ कुछ होता है तो जिम्मेदार कौन होगा। प्रशासन जवाबदारी लेता है तो ही दवा बच्चों को देंगे। स्वास्थ्य विभाग ने मामले में कलेक्टर से बात करेगा।

कृमि मुक्ति दिवस को जिले में 1 से 19 वर्ष तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल की दवा खिलाई जाना है। दवा खिलाने से शुक्रवार को संत मीरा कान्वेंट स्कूल में बच्चों में उल्टी व घबराहट की शिकायत हुई थी। बच्चों को स्कूल बस से जिला अस्पताल लाया गया। घटना के बाद मध्यप्रदेश प्रांतीय अशासकीय शिक्षण संस्था संघ से जुड़े जिले के करीब 150 स्कूलों ने बच्चों को पेट में कीड़े मारने की दवा नहीं देने का फैसला लिया है। फैसले के पीछे स्कूल संचालक कोई घटना होने के बाद किसी की जवाबदारी तय नहीं होने की बात कह रहे हैं। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग सकते में है। विभाग को जिले में 5 लाख बच्चों को दवा खिलाना है। लेकिन स्कूल संचालकों के इस फैसले से लक्ष्य पाना मुश्किल है। हालांकि विभाग बच्चों को 15 फरवरी को कृमिनाशक दवा खिलाने की तैयारी कर रहा है।

पेट के कीड़े मारने की गोली निजी स्कूल संचालक नहीं खिलाएंगे

अशासकीय शिक्षण संघ से जुड़े हैं जिले के 150 से ज्यादा स्कूल

15 फरवरी को देंगे दवा


गोली नहीं खिलाने का फैसला लिया है


X
Click to listen..