• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • 12 कोच की पहली डेमू चली, एक-एक कर सभी रैक में जुड़ेंगे 4 कोच
--Advertisement--

12 कोच की पहली डेमू चली, एक-एक कर सभी रैक में जुड़ेंगे 4 कोच

रेलवे ने से 12 कोच की डेमू ट्रेन चलाना शुरू कर दिया है। शनिवार को सुबह महू से चली डेमू ट्रेन आठ की जगह 12 कोच की चली, जो...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:35 AM IST
रेलवे ने से 12 कोच की डेमू ट्रेन चलाना शुरू कर दिया है। शनिवार को सुबह महू से चली डेमू ट्रेन आठ की जगह 12 कोच की चली, जो रतलाम होकर सीधे चित्तौडग़ढ़ तक गई। वापस यही रैक रात को महू पहुंचा। रविवार को रेलवे दूसरे रैक को भी 12 कोच का करके चलाएगा। हर रोज एक-एक रैक में चार नए कोच जोड़कर मंगलवार तक सभी रैक को 12 कोच कर कर दिया जाएगा। 12 कोच की डेमू ट्रेन मालगाडिय़ों की आवाजाही के कारण पहले ही दिन देरी से चलते हुए एक घंटे की देरी से चित्तौडग़ढ़ पहुंची। वापसी में 1.20 मिनट देरी से चलकर रतलाम करीब दो घंटे लेट पहुंची।

रेल मंडल को गुरुवार को डेमू के 16 कोच मिले थे। इन कोचों को चार-चार के भाग में बांटकर वर्तमान में चल रहे आठ कोच वाले चार डेमू रैक में जोड़कर शुक्रवार से ही 12 कोच की डेमू ट्रेन चलाई जाना थी। एक ड्राइविंग पावर कार का कैटल गार्ड डिफेक्टिव होने से शुक्रवार को रेलवे ट्रेन नहीं चलाया पाया। हालांकि शनिवार सुबह महू से 12 कोच की डेमू ट्रेन चलाने के लिए यांत्रिकी विभाग ने इंदौर से शुक्रवार रात को चलने वाली 79315 इंदौर-महू डेमू में ट्रेन में चार कोच जोड़कर महू पहुंचा दिए थे। शनिवार को महू से 79317 महू-रतलाम और 79303 रतलाम से चित्तौडगढ तक चलाया। वापसी इसी नए रैक को 79304 चित्तौड़-रतलाम और 79318 रतलाम-महू चलाया गया।