• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • गार्ड ने सीनियर डीओएम को बताया पूरा घटनाक्रम, टीआई और डीओएम कोचिंग से भी जानकारी ली, फैसला होली बाद
--Advertisement--

गार्ड ने सीनियर डीओएम को बताया पूरा घटनाक्रम, टीआई और डीओएम कोचिंग से भी जानकारी ली, फैसला होली बाद

मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के कंट्रोल रूम में सोमवार को गार्ड और डीओएम कोचिंग के बीच हुई कथित मारपीट और विवाद के...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:20 AM IST
मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के कंट्रोल रूम में सोमवार को गार्ड और डीओएम कोचिंग के बीच हुई कथित मारपीट और विवाद के मामले में बुधवार को सीनियर डीओएम पवनकुमार सिंह ने सभी पक्षों को बुलाकर जानकारी ली।

गार्ड दयालसिंह बिष्ट ने सीनियर अफसर को रविवार से शुरू होकर सोमवार तक का घटनाक्रम बताया। बाद में सीनियर डीओएम ने टीआई आईएम मंसूरी और डीओएम कोचिंग निशांत नारायण ने घटनाक्रम जाना। अंतिम फैसला होली बाद होगा लेकिन बताया जा रहा है कि परिचालन विभाग गार्ड के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए एसएफ-पांच चार्ज शीट जारी कर सकता है। इसका आधार टीआई के बयान को बताया जा रहा है, जिसमें उन्होंने बताया कि गार्ड ने डेमू ट्रेन के ब्रेकवान में नियम विरुद्ध चार व्यक्तियों को बैठा रखा था। आपत्ति लेने पर उल्टे मुझसे नाम, पता पूछते हुए गाड़ी से उतार दिया। बकौल टीआई उन्होंने स्टेशन मास्टर से विटनेस भी कराया था। सभी पक्षों से पूछताछ के बाद सीनियर डीओएम ने दो-तीन में कोई फैसला लेने की बात कही है। मालूम हो कि रविवार को डेमू ट्रेन के ब्रेकवान में चढ़े टीआई आईएम मंसूरी को गार्ड दयालसिंह ने स्टेशन पर उतार दिया। उनकी शिकायत पर सीनियर डीओएम ने दयालसिंह को पूछताछ को बुलाया था, लेकिन वे डीओएम कोचिंग के बुलाने पर उनके पास पहुंच गए। दयालसिंह के अनुसार यहीं डीओएम कोचिंग ने अभद्रता व मारपीट की। फिलहाल दयाल सिंह सिक पर हैं। उनकी लिखित शिकायत पर जीआरपी ने अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया है।

कर्मचारी का अहित नहीं होने देंगे, बनाई रणनीति

उधर गार्ड के साथ खड़ी वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन ने आंदोलन की रणनीति तैयार कर ली है। मंडल मंत्री एसबी श्रीवास्तव के अनुसार रेल कर्मचारियों के साथ अभद्रता व मारपीट जैसी घटना को कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। अधिकारियों द्वारा प्रतिकूल निर्णय लिए जाने पर हर स्तर पर विरोध किया जाएगा।