• Home
  • Mp
  • Ratlam
  • 56 किमी के बाजना रोड के 6 खतरनाक मोड़ खत्म करने के लिए वन विभाग से अब तक नहीं मिली जमीन, 27 किमी रोड बनना बाकी
--Advertisement--

56 किमी के बाजना रोड के 6 खतरनाक मोड़ खत्म करने के लिए वन विभाग से अब तक नहीं मिली जमीन, 27 किमी रोड बनना बाकी

56 किमी के बाजना रोड में चार स्थानों पर 6 खतरनाक मोड़ खत्म करने के लिए वन विभाग से जमीन मांगी है लेकिन अनुमति नहीं...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:25 AM IST
56 किमी के बाजना रोड में चार स्थानों पर 6 खतरनाक मोड़ खत्म करने के लिए वन विभाग से जमीन मांगी है लेकिन अनुमति नहीं मिली है। खतरनाक मोड खत्म नहीं होने का काम शुरू नहीं हो पाया है। रोड निर्माण की डेडलाइन 9 अगस्त 2018 है लेकिन 27 किमी रोड बनना बाकी है।

रतलाम से बाजना तक सीमेंट-कांक्रीट टू लेन बनाया जा रहा है। राजापुरा माताजी से पाड़ल्या घाट, डूंगरापूजा रोड से राजापुरा माताजी, बाटपड़ी से छावनी झोड़िया और घाटाखेरदा से बाजना तक चार स्थानों पर 6 अंधे मोड़ खत्म करने के लिए चार माह पहले वन विभाग से अनुमति मांगी थी। अनुमति वन विभाग के भोपाल कार्यालय में अटकी है। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है भोपाल से अनुमति नहीं मिल पाई है। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि वन विभाग से अनुमति मिलने के बाद ही हम खतरनाक मोड़ खत्म करने का काम शुरू कर पाएंगे। जामण से केलदा के आगे तक 29 किमी रोड ही बन पाया है। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है होली पर मजदूरों के छुट्‌टी पर जाने से निर्माण रूका है। रंगपंचमी बाद निर्माण शुरू होगा और इसे समय रहते पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

लेट लतीफी

रतलाम से बाजना तक बन रहा है सीसी रोड, डेडलाइन 9 अगस्त, चार माह पहले मांगी थी जमीन

मोड़ खत्म करने के लिए वन विभाग को चाहिए जगह





फोरलेन के लिए निर्माण तुड़वाने में ही लग गए हैं दो महीने

बाजना बस स्टैंड से वरोठ माता रोड तक फोरलेन बनाया जाना भी शामिल हैं। जिला प्रशासन ने एमओएस के लिए 10 फीट जगह छोड़ने की बात कहते हुए निर्माण तोड़ने के लिए मना लिया। 104 फीट का फोरलेन बनाने से पहले पीडब्ल्यूडी ने नाली बनाना शुरू कर दी है।

अब टू लेन सीसी बन रहा- पहले पूरा रोड 3.75 मीटर डामर का था। इसमें डेढ़-डेढ़ मीटर शोल्डर थे। अब 5.5 मीटर सीसी रोड बनाया जा रहा है। इसमें ढाई-ढाई मीटर के शोल्डर रहेंगे। यह रोड 10 मीटर का होगा। रोड वरोठ माता मंदिर से बाजना से आगे तक बनाया जा रहा है।

जल्द काम शुरू करवाएंगे


अनुमति भोपाल में अटकी है