--Advertisement--

बस संचालक कंपनियों से हुआ एग्रीमेंट, दिवाली से पहले शुरू होंगी सिटी बसें

पहले चरण में शहर में 32 सीटर चार बसें और 52 सीटर आठ नाॅन एसी बसें चलेंगी

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 12:39 PM IST

रतलाम. दिवाली से पहले शहर में सिटी बसें चलने लगेंगी। सोमवार को बस संचालन करने वाली कंपनी और रतलाम बस सर्विसेस लिमिटेड के बीच एग्रीमेंट हुआ। पहले चरण में क्लस्टर नंबर 2 व 4 में बसें चलेंगी। शहरी क्षेत्र में 4 बसें 32 सीटर और दूसरे शहर तक जाने के लिए 8 बसें 53 सीटर चलाई जाएगी। क्लस्टर 1 व 3 के लिए भी टेंडर जारी किए थे, लेकिन क्लस्टर 3 के लिए एक टेंडर आया, जिसे सोमवार को टेंडर कमेटी के सामने रखा गया।

बस संचालक कंपनी अर्जुन शांति रोड लिंक और रतलाम बस सर्विसेस लिमिटेड के बीच सिटी बस संचालन के लिए सोमवार को एग्रीमेंट हुआ। इसके साथ ही अब बस चलाने की तैयारी शुरू हो जाएगी। कंपनी संचालक बलवंत भाटी का कहना है कि दिवाली पहले सिटी बसें शुरू कर दी जाएगी। कम से कम किराया आरटीओ द्वारा तय किया जाएगा। इससे लोगों का आना-जाना सस्ता व आसान होगा। क्लस्टर 2 व 4 में चलने वाली सिटी बसें शहर के साथ, जिले सहित इंदौर, भोपाल, नीमच और बड़वानी तक जाएंगी।

बाजना, नीमच तक जाना होगा आसान
क्लस्टर-2 : बाजना, नीमच व शहर में बाजना रोड तक जाएगी बसें- रतलाम से बाजना, रतलाम से नीमच, रेलवे स्टेशन से पुराना बस स्टैंड वाया दो बत्ती, सैलाना बस स्टैंड, राम मंदिर, कस्तूरबा नगर, बिल्डिंग सेंटर, कॉमर्स काॅलेज, डोंगरा नगर, बाजना रोड बस जाएगी।

क्लस्टर-4 : बड़वानी, बदनावर, जोबट व शहर में मेडिकल काॅलेज तक जाएगी बस- रतलाम से बड़वानी वाया बदनावर, सरदारपुर, जोबट, रतलाम से आलीराजपुर वाया बदनावर, सरदारपुर जोबट, डोसीगांव से मेडिकल कॉलेज वाया प्रताप नगर, डी-मार्ट, न्यू कलेक्टोरेट, बस स्टैंड, गीता मंदिर, कन्या महाविद्यालय, बाल चिकित्सालय, सैलाना बस स्टैंड, राम मंदिर, मेडिकल काॅलेज तक बस चलाई जाएगी।


शहर में 42 स्टॉपेज बनेंगे
शहर में 42 बस स्टॉप बनाए जाएंगे। जहां से यात्री बस में सवार हो सकेंगे।
अभी डिपो पलसोड़ी में प्रस्तावित है लेकिन बस संचालक कंपनी ने विरोध कर दिया। इस पर अब इसे महू-नीमच रोड पर बनाने की तैयारी की जा रही है।
शहर में बसें टू-लेन पर ही चलेगी। इसके लिए अतिक्रमण हटाने की तैयारी भी प्रशासन ने शुरू कर दी है। खासकर लोकेंद्र टॉकीज रोड सहित शहर के मुख्य चौराहों से लेकर रास्तों से अतिक्रमण हटाया जाएगा। जिला प्रशासन ने इसके लिए सूची भी तैयार कर ली है, जल्दी ही अतिक्रमण हटाया जाएगा।