--Advertisement--

राजनीति / एट्रोसिटी एक्ट से उपजे विरोध पर टेंशन में शिवराज; बोले- हमने कोई भेद नहीं किया



रतलाम में सीएम ने सर्जरी सीखने के काम आने वाले सूक्ष्मदर्शी की बारीकियां जांची। रतलाम में सीएम ने सर्जरी सीखने के काम आने वाले सूक्ष्मदर्शी की बारीकियां जांची।
  • प्रदेश के माहौल को लेकर सीएम के चेहरे पर नजर आई चिंता 
  • कहा- प्रदेश में सद्‌भावना बनाए रखें
Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 09:42 AM IST

शाजापुर/नलखेड़ा. एससी-एसटी एक्ट को लेकर प्रदेश में बने विरोध के माहौल को लेकर सीएम के चेहरे पर साफ चिंता देखी जा रही है। यहां बांध लोकार्पण कार्यक्रम में पहुंचे सीएम ने कहा- प्रदेश में सद्भावना बनाकर रखें। प्रदेश सरकार ने किसी में कोई भेद नहीं किया। जितनी भी योजनाएं बनाई हैं, उसमें जाति या वर्गभेद नहीं किया। रही बात अत्याचार की तो प्रदेश में अत्याचार किसी के साथ नहीं होने दूंगा।

 

नलखेड़ा से 13 किमी दूर गाेठड़ा के पास 3448 करोड़ से बने बांध का बुधवार को लोकार्पण किया। आगर-मालवा और राजगढ़ जिले की सीमा पर बनाए गए इस कुंडालिया बांध का नाम मुख्यमंत्री ने अटल सागर बांध करने की घोषणा की। उन्होंने कहा स्थानीय स्तर से आए सुझाव पर इस परियोजना को नया नाम दिया है।

 

मेडिकल कॉलेज को दिए आधुनिक उपकरण 

मेडिकल कॉलेज के लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि रतलाम मेडिकल कॉलेज में ऐसे आधुनिक उपकरण दिए गए हैं जो दिल्ली के एम्स में भी नहीं हैं। यह कॉलेज संभाग के लिए उपलब्धि है। यहां 750 बेड के अस्पताल की बिल्डिंग बन गई। यहां किडनी, घुटना ट्रांसप्लांट के साथ ही कैंसर का भी इलाज होगा। 

 

समाज के हर वर्ग को मिलेगा न्याय  

शिवराज सिंह ने सुवासरा में सामान्य वर्ग को साधने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि समाज के हर वर्ग को न्याय मिलेगा, किसी भी निर्दोष का उत्पीड़न नहीं होगा। 

--Advertisement--