लापरवाही / ठेकेदार और आयुक्त के झगड़े ने रोक दिए विकास कार्य, 57 काम बंद



Contractor and Commissioner quarrels stopped work, 57 work stopped in ratlam
X
Contractor and Commissioner quarrels stopped work, 57 work stopped in ratlam

  • 75 प्रतिशत काम ऐसे हैं जिनमें देरी हुई तो लोकसभा चुनाव के बाद ही पूरे हो पाएंगे 
  • समय पर भुगतान और दलालों का हस्तक्षेप रोकने हड़ताल पर गए ठेकेदार 

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2019, 12:02 PM IST

रतलाम. नगर निगम ठेकेदारों के हड़ताल पर चले जाने से शहर के 49 वार्डों में चल रहे सड़क, नली, पेवर ब्लॉक, बाउंड्रीवाल, नाला निर्माण सहित 57 से ज्यादा निर्माण कार्य शनिवार से बंद हो गए। निगम अधिकारियों को काम बंद होने की चिंता नहीं है। 


ढाई माह की विधानसभा चुनावी आचार संहिता के बाद जैसे-तैसे एक दर्जन काम शुरू हो पाए थे, कुछ काम पहले से स्वीकृत थे। बंद हुए कामों में 75 प्रतिशत ऐसे है, जो 60 से 70 दिन में पूरे होना है। हड़ताल लंबी चली तो ये काम अधूरे ही रह जाएंगे क्योंकि मार्च में लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लग जाएगी। ऐसे में आगामी कुछ दिनों में शुरू होने वाले काम चार माह के लिए अटक सकते हैं।


शनिवार को ननि ठेकेदार एसोसिएशन के सदस्यों ने दोपहर को हाथीखाना चौराहे पर एकत्र होकर कमिश्नर की मनमानी और दलालों का हस्तक्षेप बंद करने की मांग को लेकर नारे लगाए। इसके बाद सभी सालाखेड़ी स्थित मिड-वे होटल पहुंचे। यहां सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि जब तक अफसर ठेकेदारों की परेशानियों को दूर नहीं करते हड़ताल जारी रहेगी। 


ठेकेदार एसोसिएशन अध्यक्ष मनसुखलाल माली,भुगतान समय पर हो, अधिकारी सम्मान से बात करें, फाइल लेकर घूमना न पड़े, दलालों का हस्तक्षेप बंद करने सहित अन्य मांगों का जब तक निराकरण नहीं हो जाता, ठेकेदार काम चालू नहीं करेंगे। 


हड़ताल के कारण शहर में बंद हुए ये निर्माण कार्य 
25 सड़क 
8 नाली 
9 पेवर ब्लॉक 
11 बाउंड्रीवाॅल 
4 नाला निर्माण 
5 अन्य 


काम में कोई न कोई कमी बताकर रोक रहे फाइलें 

  • 1 ठेकेदार सुवेक ठक्कर ने बताया लोकेंद्र टॉकीज चौराहे पर अक्टूबर-नवंबर में 5.26 लाख से पेवर ब्लाॅक लगाए थे। इंजीनियर, सब इंजीनियर ने चैक किया, सिटी इंजीनियर ने ओके रिपोर्ट दे दी। कमिश्नर ने फाइल काम व्यवस्थित नहीं की टीप डालकर लौटा दी। 
  • 2 ठेकेदार संजय शर्मा ने बताया नयागांव जनता काॅलोनी साईं मंदिर के पास वाली रोड 16.80 में बनाना थी। 5 अक्टूबर को काम चालू किया था। 17 नवंबर तक पेमेंट नहीं हुआ तो काम बंद करना पड़ा। जेब से रुपए लगाने की भी क्षमता होती है। 
  • 3 ठेकेदार आयुष गुप्ता बताते हैं 8.5 लाख से रत्नपुरी के बगीचे की बाउंड्रीवाल बनाई । इंजीनियर ने चैक करने के बाद व्यवस्थित बिल बनाकर कमिश्नर को भेजा था। अकाउंट विभाग ने लौटा दी की इंजीनियर व सब इंजीनियर से प्रमाणित कराओ। 

 

आयुक्त से सवाल - ठेकेदार भुगतान समय पर नहीं होने व दलालों पर रोक लगाने की मांग कर रहे हैं 
जवाब- नगर निगम आयुक्त एसके सिंह ने कहा कि ठेकेदारों की हड़ताल को लेकर मुझे कुछ पता नहीं हैं। सोमवार को ऑफिस खुलेगा तब जानकारी निकालकर बात करेंगे। 

 

COMMENT