पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिला जेल बनी सर्किल जेल, इसके अधीन रहंेगी 10 जेलें

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रतलाम | जेल मुख्यालय के आदेश पर जिला जेल को सर्किल जेल बनाया है। जेल के अधीन 10 जेलें रहेगी। जेल अधीक्षक को सर्किल जेल अधीक्षक बनाया है।

रतलाम, नीमच, मंदसौर झाबुआ जिले के अलावा धार में बदनावर व उज्जैन की खाचरौद जेल को इस सर्किल में शामिल किया है। 10 जेल सर्किल जेल अधीक्षक के अंडर में चलेगी। पहले उज्जैन सेंट्रल जेल में 22 जेलें आती थी। दो भागों में बांटने के बाद उज्जैन के अधीन अब 12 जेल ही बची है। सर्किल जेल अधीक्षक आरआर डांगी ने बताया जेल मुख्यालय के आदेश पर रतलाम जेल को सर्किल जेल बनाया है। जेल अधीक्षकों की बैठक ली थी। निर्देश देने के साथ ही समीक्षा की। डांगी ने बताया अधिकांश जेलों का निरीक्षण किया है। उन्होंने बताया रतलाम जेल में 500 से अधिक कैदी है।

यह जेलें हैं अंडर में
जिला जेल सर्किल में रतलाम, सैलाना, जावरा, मंदसौर, गरोठ, नीमच, जावद, बदनावर, खाचरौद और झाबुआ की जेल को शामिल किया है। तीन माह में एक बार इन सभी जेल अधीक्षकों की बैठक होना नियत है। सर्किल अधीक्षक डांग ने बताया एक बैठक हो चुकी है। जिसमें आवश्यक निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...