नवरात्रि / 70 से ज्यादा स्थानों पर दुर्गा पूजा, 50 जगह होंगे सार्वजनिक गरबे



माता की प्रतिमा को अंतिम रूप देता कलाकार। माता की प्रतिमा को अंतिम रूप देता कलाकार।
X
माता की प्रतिमा को अंतिम रूप देता कलाकार।माता की प्रतिमा को अंतिम रूप देता कलाकार।

  • नवरात्रि उत्सव के तहत शक्ति की आराधना को लेकर जुटे भक्त
  • प्रतिमाओं से सजने लगे बाजार, पंडाल बनाने की रूपरेखा तैयार

Dainik Bhaskar

Oct 05, 2018, 11:09 AM IST

मंदसौर. नवरात्रि महोत्सव शुरू होने में 5 दिन का समय बाकी है। ऐसे में शक्ति की आराधना के लिए भक्तों ने तैयारी शुरू कर दी है। मां दुर्गा की प्रतिमाओं से बाजार सजने लगे हैं, कई कलाकार अभी भी मूर्तियों को अंतिम रूप देने में जुटे हैं।

 

मंदिर व पंडालों में नौ दिनी नवरात्रि महोत्सव के लिए मंडलों ने बालक बालिकाओं के साथ गरबों की तैयारियां शुरू कर दी हैं। शहर में 70 से अधिक स्थानों पर महोत्सव मनेगा। 50 से अधिक सार्वजनिक पंडालों में गरबा खेला जाएगा। शहर की आस्था के केंद्र नालछा माता मंदिर में 10 अक्टूबर को सुबह घट स्थापना पूजन के साथ माता की आराधना शुरू होगी।


शहर के प्राचीन नालछा माता मंदिर, संतोषी माता मंदिर सहित अन्य माता मंदिरों पर धूमधाम से नवरात्रि पर्व मनाया जाएगा। इसके लिए मंदिरों पर तैयारियां शुरू हो गई हैं। मंदिरों पर कई धार्मिक आयोजन होंगे। नालछा माता मंदिरों पर चुनरी व ध्वजाएं चढ़ाई जाएंगी। रोज महाआरती व प्रसादी वितरण होगा। इसके अलावा शहर में नौ दिनों तक गरबों से शक्ति की आराधना होगी।

 

गरबाें उत्सव में शहर में आजाद चौक, आनंद गरबा, सम्राट रोड, रामटेकरी, चौधरी कॉलोनी, अभिनंदननगर, बड़ा चौक, नृसिंहपुरा, किटियानी, जनता कॉलोनी में होने वाले गरबों के आयोजन मुख्य आकर्षण रहेंगे। नवरात्रि पर्व के लिए शहर में मां की मूर्तियों से बाजार सजने लगे हैं। बाजार में 501 से लेकर 20 हजार तक की मूर्तियां उपलब्ध हैं। बीपीएल चौराहा, जिला अस्पताल मार्ग पर दुकानें सज गई हैं। वहीं गरबा संचालकों द्वारा गरबे की तैयारियां कराई जा रही हैं। युवा रोज सुबह शाम गरबा की प्रैक्टिस में लग गए हैं।

नालछा माता मंदिर पर यह रहेगा खास
मां शक्ति की आराधना का महापर्व में प्राचीन नालछा माता मंदिर में सुबह शुभ मुहूर्त में घटस्थापना होगी। नालछा माता मंदिर में नौ दिनों तक प्रतिदिन सुबह और शाम को विशेष आरती होगी। पंचमी पर माता की प्रतिमा का जेवरों से आकर्षक श्रृंगार किया जाएगा। अष्टमी व नवमी पर शाम को भजन संध्या होगी। दशहरा पर्व में चूल का आयोजन होगा। भक्त अंगारों पर चलेंगे। वहीं आजाद चौक पर मां जय भवानी आराधना ग्रुप द्वारा आकर्षक स्टेज तैयार कर बनारस के पंडितों के द्वारा आरती कराई जाएगी। विशेष गरबा खेला जाएगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना