सीएए / पूर्व विधायक चौहान बोले- मोदी सरकार ने प्रताड़ित हिन्दुओं को न्याय दिलाने का काम किया है

  बैठक को संबोधित करते पूर्व विधायक चौहान।    बैठक को संबोधित करते पूर्व विधायक चौहान। 
X
  बैठक को संबोधित करते पूर्व विधायक चौहान।   बैठक को संबोधित करते पूर्व विधायक चौहान। 

  • 17 काे भाजपा निकालेगी नागरिकता संसोधन कानून के समर्थन में रैली को, पूर्व विधायक चौहान ने वालपुर और चांदपुर में ली बैठक 

दैनिक भास्कर

Jan 12, 2020, 03:48 PM IST

आलीराजपुर. नागरिकता संसोधन बील के समर्थन में 17 जनवरी को भाजपा के द्वारा रैली निकाली जाएगी। जिसके लिए तैयारियां की जा रही है। टंकी ग्राउंड से यह रैली दोपहर 1 बजे निकलेगी। रैली का आयोजन हम भारत के लोग नामक मंच द्वारा किया गया है। रैली में जिले से बड़ी संख्या में लोगों के शामिल होने का अनुमान जताया जा रहा है। इसे सफल बनाने के लिए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक नागरसिंह चौहान ने विधानसभा में दौरा कर कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों की बैठक कर उन्हें रैली में शामिल होने का आव्हान कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने दपुर क्षेत्र में बैठक की।

चौहान ने कहा कि भारत और पाकिस्तान का बंटवारा होने के बाद भारत धर्म निरपेक्ष देश बना जबकि पाकिस्तान इस्लामिक देश बना। जहां रह रहे हिन्दू,सिख व अन्य अल्पसंख्यक लोगों के साथ धार्मिक कट्टरता बढ़ती गई। धीरे धीरे उनके साथ अन्याय होता गया। बहन बेटियों का अपहरण कर उनका धर्म परिवर्तन करवाया गया। मकान लूट लिए गए, संपति हड़प ली। उनके साथ हुए अत्याचार से न्याय की गुहार लगाई गई तो उन्हें न्याय नहीं मिला। ऐसे में वे लोग अपना सबकुछ छोड़कर भारत में शरण लेकर रहे। इन शरणार्थियों की पीड़ा को समझते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने नागरिकता संसोधन बील को लागू कर उन्हें न्याय देने का काम किया है। लेकिन कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दल लोगों को गुमराह कर देश का माहौल खराब कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आगामी 17 जनवरी को बील के समर्थन में रैली निकाली जा रही हैं। जिसमें हम सभी को सफल बनाना हैं। 


देशहित में जेल जाने को भी तैयार 
रैली को लेकरा ग्राम वालपुर में भी बैठक हुई। चौहान ने कहा कि मप्र सरकार ने नागरिकता संसोधन कानून को प्रदेश में लागू नहीं करने का निर्णय लिया है। इसी कारण मुख्यमंत्री कमलनाथ उनकी सरकार द्वारा जो लोग बील के समर्थन में रैली निकाल रहे हैं उन्हें धारा 144 का उल्लंघन बताकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर रहे हैं। लेकिन हम रैली निकाल कर रहेंगे। इसके लिए चाहे जेल जाना पड़े। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना