पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कमल भदौरिया की जमानत अर्जी खारिज

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रतलाम | वर्चस्व की लड़ाई में सैलाना यार्ड में गोलियां चलने के मामले में गिरफ्तार आरोपी कमल भदौरिया की जमानत अर्जी गुरुवार को सत्र न्यायाधीश मृत्युंजय सिंह ने खारिज कर दी। भदौरिया ने मंगलवार को मेडिकल ग्राउंड पर जमानत देने की मांग की थी। गुरुवार को सुनवाई में उपसंचालक अभियोजन एस.के. जैन ने आपत्ति जताई। 29 जनवरी 2012 की रात को अंबर और उजाला ग्रुप तथा दूसरे पक्ष के भदौरिया ग्रुप के बीच शिखा बार के सामने मारपीट हुई और गोलियां चली थी। अंबर ग्रुप की ओर से मयंक जाट की रिपोर्ट पर कमल भदौरिया, भाजपा पार्षद भगत भदौरिया, रितेश, कालू, शरद भाटी तथा अन्य के खिलाफ तथा रितेश पिता हरिसिंह की रिपोर्ट पर यतींद्र भारद्वाज, ऋषि जायसवाल, अमित जायसवाल, मयंक जाट तथा अन्य के खिलाफ जानलेवा हमला, बलवा एवं आर्म्स एक्ट में प्रकरण दर्ज हुआ था। प्रकरण में फरार आरोपी कमल भदौरिया को सात साल बाद पुलिस ने 30 अक्टूबर को वड़ोदरा से गिरफ्तार किया। न्यायालयीन हिरासत में वह सैलाना जेल में है।

खबरें और भी हैं...