रतलाम

  • Home
  • Mp
  • Ratlam
  • नाबालिग का अपहरण करने वाले युवक को 3 साल की सजा
--Advertisement--

नाबालिग का अपहरण करने वाले युवक को 3 साल की सजा

शादी करने के लिए नाबालिग को भगाकर ले जाने वाले युवक को सत्र न्यायाधीश मृत्युंजय सिंह ने तीन साल कारावास की सजा...

Danik Bhaskar

May 18, 2018, 05:55 AM IST
शादी करने के लिए नाबालिग को भगाकर ले जाने वाले युवक को सत्र न्यायाधीश मृत्युंजय सिंह ने तीन साल कारावास की सजा सुनाई। दो धाराओं में उसपर एक हजार रुपए अर्थदंड भी लगाया। अभियोजन की ओर से पैरवी उपसंचालक अभियोजन सुशीलकुमार जैन ने की।

अभियोजन के अनुसार 25 मार्च 2017 को नाबालिग लड़की अपनी चचेरी बहन के साथ हाट बाजार में सैलाना आई थी। हाट में मिले आरोपी मुकेश पिता रामचंद्र खराड़ी (22) निवासी नेपाल ने उसे कहा दोनों पर परिजन शंका करते हैं इसलिए भाग चलते हैं। बस में बिठाकर मुकेश उसे देवास के पास ग्राम नेवरी ले गया। मुकेश का बड़ा भाई राजू वहीं हाली का काम करता था। खेत पर बने मकान में लड़की को रखकर मुकेश ने ज्यादती की। लड़की ने राजू को जानकारी दी तो उसने लड़की के परिजन को फोन कर बुलाया।

सूचना पर लड़की के पिता, मामा और काका नेवरी पहुंचे। परिजन को देख मुकेश भाग गया। परिजन लड़की को घर लाए और सैलाना थाने में 29 मार्च को रिपोर्ट दर्ज कराई। सैलाना पुलिस ने 30 मार्च 2017 को आरोपी मुकेश को गिरफ्तार कर अपहरण, ज्यादती और पास्को एक्ट की धाराओं में चालान पेश किया। गुरुवार को फैसले में सत्र न्यायाधीश मृत्युंजय सिंह ने ज्यादती के आरोप से दोषमुक्त कर अपहरण और शादी के लिए दबाव बनाने की धाराओं में तीन-तीन साल कारावास और 500-500 रुपए अर्थदंड से दंडित किया।

Click to listen..