• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • lok sabha elections news congress workers paying for crowd for hardik rally video viral

आरोप / हार्दिक की सभा में भीड़ लाने वालों को कांग्रेस जिलाध्यक्षों ने रुपए बांटे, वीडियो वायरल

Dainik Bhaskar

May 10, 2019, 03:45 PM IST



वीडियो में दिखते जिलाध्यक्ष भरावा  वीडियो में दिखते जिलाध्यक्ष भरावा 
X
वीडियो में दिखते जिलाध्यक्ष भरावा वीडियो में दिखते जिलाध्यक्ष भरावा 

  • भाजपा की शिकायत के बाद एसडीएम ने दोनों जिलाध्यक्षों को नोटिस देकर 24 घंटे में जवाब मांगा
  • कांग्रेस नेताओं का कहना है कि उन्होंने सभा में टेंट, पानी और प्रचार में लगी गाड़ियों का पैसा दिया

रतलाम. कांग्रेस स्टार प्रचारक हार्दिक पटेल की धराड़ में हुई सभा में भीड़ लाने के लिए कांग्रेस के जिलाध्यक्ष राजेश भरावा व कार्यवाहक जिलाध्यक्ष दिनेश शर्मा पर रुपए बांटने का आरोप है। सोशल मीडियो पर पैसे बांटने का वीडियो वायरल हो रहा है।भाजपा ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। इस पर एसडीएम व सहायक रिटर्निंग अधिकारी शिराली जैन ने दोनों जिलाध्यक्षों को नोटिस देकर 24 घंटे में जवाब मांगा है।
 

आरोप है कि पटेल की सभा के बाद मंच के पास कुर्सियां लगाकर कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश भरावा व कार्यवाहक जिलाध्यक्ष दिनेश शर्मा ने 500-500 के नोट बांटे। इस दौरान कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष सुशील नागर भी मौजूद थे। लोकसभा चुनाव रतलाम शहर सह प्रभारी निर्मल कटारिया ने चुनाव आयोग के पोर्टल पर शिकायत की है। 

 

f

 

वीडियो में पैसे बांटते दिख रहे कांग्रेस नेता

वीडियो में दिख रहा है कांग्रेस जिलाध्यक्ष भरावा व कार्यवाहक जिलाध्यक्ष शर्मा रुपये बांट रहे हैं। शर्मा गड्डी में 500-500 के नोट निकालकर दे रहे हैं तो भरावा कॉपी में उनके नाम नोट कर रहे हैं। वीडियो में आवाज है उमटथाना का रुपया शिवनारायण को दो, दो गाड़ी के मूंदड़ी के रुपए दो ..इनको मंगल भाई दे देंगे। मूंदड़ी के रुपए देवीलाल को दे दिए।
 
भाजपा कलेक्टर से भी करेगी शिकायत

भाजपा लोकसभा चुनाव मीडिया प्रभारी अरुण राव ने बताया कि कांग्रेस जिलाध्यक्षों द्वारा सभा में रुपए देकर भीड़ लाने की शिकायत शुक्रवार को कलेक्टर से करेंगे। सबूत इकट्ठा कर लिए हैं।

 

झूठा फंसाने की कोशिश

कांग्रेस जिलाध्यक्ष भरावा ने बताया कि सात गाड़ियां प्रचार में लगी हैं, टेंट, मंच और मंगवाए पानी के पाउच का पेमेंट किया है। मैंने सबके नाम लिखे हैं और कार्यवाहक जिलाध्यक्ष ने रुपए दिए हैं। किसी ने वीडियो बनाकर झूठा फंसाने की कोशिश की है, हम उसकी पुलिस को शिकायत करेंगे।

COMMENT